अखिलेश और मायावती एक हो जाएं तो 2019 में बीजेपी का खेल खत्म : लालू
पटना में एक रैली को संबोधित करते हुए लालू ने कहा कि बीजेपी विपक्ष की राजनीतिक शक्ति से अनजान नहीं है।


पटना : आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने बुधवार को कहा कि बीजेपी 2019 की हार के डर से सभी विपक्षी पार्टियों को तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। पटना में एक रैली को संबोधित करते हुए लालू ने कहा कि बीजेपी विपक्ष की राजनीतिक शक्ति से अनजान नहीं है। साथ ही लालू ने 2019 में बीजेपी का गेम ओवर करने का फॉर्म्युला भी बताया।

लालू प्रसाद ने कहा, 'हर कोई अपनी विचारधारा अनुरूप काम कर रहा है, चाहें वह मायावती जी हों, अखिलेश हो, रॉबर्ट वाड्रा जी हों, प्रियंका गांधी जी हों, ममता दी हों या केजरीवाल हो, लालू यादव हों या उनका परिवार। बीजेपी हमें तोड़ना चाहती है क्योंकि वह हमारी शक्ति के बारे में जानती है। और बीजेपी यह भी जानती है कि अगर सभी विपक्षी पार्टियां एक हो जाती हैं तो बीजेपी का 2019 में फिर से सरकार बनाने का सपना, सपना ही रहा जाएगा।'

लालू यादव ने यूपी में एसपी-बीएसपी के एक होने को 2019 में बीजेपी का गेम ओवर करने का फॉर्म्युला बताते हुए कहा, 'अगर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव और बीएसपी सुप्रीमो मायावती एक हो जाते हैं तो बीजेपी के अगला चुनाव जीतने का कोई चांस नहीं होगा।' 

राष्ट्रपति चुनाव के बाद से बिहार के महागठबंधन में दरार की खबरें आ रहीं थीं जिसके बाद सीएम नीतीश कुमार ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए विपक्ष को साझा अजेंडा पेश करने को कहा था। नीतीश कुमार ने कहा था, 'मैंने पहले भी कहा है कि कांग्रेस बड़ी पार्टी है और उसे विपक्ष का अजेंडा तय करना चाहिए। विपक्ष को एक नया नजरिया चाहिए केवल सरकार की नीतियों पर रिऐक्ट करने से काम नहीं चलेगा।'


अधिक देश की खबरें