यूपी विधानसभा विस्फोटक कांड को लेकर खुलासा 100 में से 94 कैमरे पड़े हैं खराब
यूपी विधानसभा विस्फोटक कांड को लेकर खुलासा 100 में से 94 कैमरे पड़े हैं खराब


लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा में आरडीएक्स से भी घातक विस्फोटक PETN  मिलने के बाद अब NIA  ने जांच शुरू कर दी है। यूपी एटीएस की टीम भी पड़ताल कर रही है कि आखिर इतनी बड़ी साजिश किसने और कैसे रची ? लेकिन आज यूपी विधानसभा में सुरक्षा से जुड़ी एक बड़ी लापरवाही का खुलासा हुआ है।

यूपी विधानसभा के 100 सीसीटीवी में से 94 खराब पड़े हैं: यूपी की जिस विधानसभा के भीतर विस्फोटक मिला है,  अब पता चला है कि उसी विधानसभा में लगे 100 सीसीटीवी में से 94 खराब पड़े हैं। जबकि सीसीटीवी कैमरे के भरोसे ही इस बात की जांच होनी है कि असेंबली के भीतर किसने विस्फोटक पदार्थ रखा था। 
लखनऊ विधानसभा में यूपी एटीएस की टीम पहुंची। जवानों के साथ एसपी प्रभाकर चौधरी मौजूद थे। एटीएस के जवान विधानसभा के भीतर चारों तरफ घूमकर देख रहे थे कि कौन सी जगहें संवेदनशील हैं, कहां सुरक्षा की ज्यादा जरूरत है।

दो विधायकों समेत 6 लोगों से हो चुकी है पूछताछ : विधानसभा के भीतर NIA की टीम ने भी पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। ATS ने विस्फोटक की फिर से जांच के लिए दिल्ली की फॉरेंसिक लैंब में भेज दिया है। दो विधायकों समेत 6 लोगों से अब तक पूछताछ हुई है। विधानसभा में सफ़ाई का काम करने वाले चार कर्मचारियों से भी पूछताछ हुई।

यूपी विधानसभा में सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए होनी है वोटिंग : उधर चूंकि इसी यूपी विधानसभा में सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग होनी है, इसलिए एटीएस की टीम और पुलिस ने पूरी असेंबली के चप्पे चप्पे को अच्छी तरह से जांचां। उत्तर प्रदेश विधानसभा में तीन लेयर की सिक्योरिटी लांघकर विस्फोटक पदार्थ का भीतर पहुंचना और अब ये भी पता चलने के बाद कि 100 में से 94 सीसीटीवी कैमरे काम भी नहीं कर रहे, बताते हैं कि सुरक्षा को लेकर कितनी बड़ी लापरवाही बरती गई है।


अधिक राज्य की खबरें