ऑस्ट्रेलिया में सिगरेट पीना हुआ महंगा, एक पैकेट सिगरेट की कीमत होगी ढाई हजार रुपये
2016 के बजट में ऑस्ट्रेलिया ने तंबाकू पर लगने वाले टैक्स को काफी बढ़ा दिया था।


मेलबर्न : ऑस्ट्रेलिया सिगरेट पीने वालों के लिए दुनिया में सबसे महंगी जगह है। अब यहां तंबाकू की कीमत और बढ़ने जा रही है। 2020 तक यहां सिगरेट के एक पैकेट की कीमत 40 डॉलर, यानी करीब 2,571 रुपये हो जाएगी। यह कीमत मौजूदा मूल्य से करीब 50 फीसदी ज्यादा होगी। अभी यहां 25 सिगरेट का पैकेट लगभग 1,262 रुपये का मिलता है। 

2016 के बजट में ऑस्ट्रेलिया ने तंबाकू पर लगने वाले टैक्स को काफी बढ़ा दिया था। सरकार का कहना था कि इस फैसले के पीछे ज्यादा राजस्व जमा करने की मंशा नहीं है, बल्कि लोगों की सेहत की हिफाजत के मकसद से यह कदम उठाया गया है। बजट में कहा गया, 'लोगों के सिगरेट पीने की आदत को खत्म करने का सबसे प्रभावी तरीका इसकी कीमतें बढ़ाना है। पिछले 2 दशकों से सरकार ने तंबाकू पर लगने वाले टैक्स में लगातार इजाफा किया है। इसके कारण लोगों के सिगरेट पीने की आदत कम हुई है। जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनके द्वारा रोजाना पी जाने वाली सिगरेट की संख्या में भी कमी आई है।'

बाकी दुनिया के मुकाबले ऑस्ट्रेलिया में धूम्रपान विरोधी कानून बहुत सख्त हैं। 2011 में यहां टबैको प्लेन पैकेजिंग ऐक्ट लागू किया गया, जिसके अंतर्गत सिगरेट के पैकेटों पर लोगो लगाना प्रतिबंधित है। सेहत से जुड़ी चेतावनी के अलावा यहां सिगरेट के पैकेट पर किसी भी तरह का निशाना या लोगो लगाना भी वर्जित है। सरकार ने स्मोकिंग को हतोत्साहित करने के लिए तंबाकू पर लगने वाले टैक्स में लगातार इजाफा किया है, जिसके कारण पिछले 6 सालों में यहां सिगरेट की कीमतें दोगुनी हो गई हैं। 2013 में हुए एक सर्वे के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया में करीब 30 लाख लोग सिगरेट पीते हैं। आबादी के लिहाज से देखा जाए, तो यह संख्या कुल जनसंख्या का करीब 13 फीसदी है। 2016 में सरकार ने तंबाकू की अवैध बिक्री को रोकने के लिए करीब 50 करोड़ रुपये का विशेष फंड आवंटित किया। 


अधिक विदेश की खबरें