पाकिस्‍तान आतंक को शह देने वाला देश घोषित
अमेरिका ने कहा कि लश्‍कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्‍मद जैसे आतंकी संगठनों के कैंप अभी भी पाकिस्‍तान से संचालित हो रहे हैं.


वाशिंगटन : मेरिका ने पाकिस्‍तान को आतंकियों को शह देने वाले देशों की सूची में डाला है. अमेरिका ने कहा कि लश्‍कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्‍मद जैसे आतंकी संगठनों के कैंप अभी भी पाकिस्‍तान से संचालित हो रहे हैं.

सालाना जारी होने वाली 'कंट्री रिपोर्ट ऑन टेरेरिज्म' अमेरिका के गृह मंत्रालय ने पाकिस्‍तान के लिए कहा गया है कि लश्‍कर और जैश जैसे आतंकी संगठन अभी भी पाकिस्‍तान के अंदर से संचालित, संगठित और धन उगाह रहे हैं. पाकिस्‍तानी सेना और सुरक्षाबलों ने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्‍तान जैसे पाकिस्‍तान में हमले करने वाले आतंकी संगठनों पर कार्रवाई की है.

अमेरिकी गृह मंत्रालय ने कहा, 'पाकिस्‍तान ने अफगान तालिबान या हक्‍कानी पर पर्याप्‍त कार्रवाई या अफगानिस्‍तान में अमेरिका के हितों को नुकसान पहंचाने की उनकी क्षमता को कम करने का प्रयास नहीं किया. हालांकि पाकिस्‍तान ने इन दोनों संगठनों को अफगान शांति प्रकिया में शामिल करने का प्रयास किया.'

आगे कहा गया है, 'पाकिस्‍तान ने दूसरे देशों को निशाना बनाने वाले संगठनों जैसे लश्‍कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्‍मद के खिलाफ 2016 में पर्याप्‍त कार्रवाई नहीं की. ये संगठन यहां पर चलते रहे, प्रशिक्षण देते रहे, संगठन चलाते रहे और धन उगाहते रहे.'

भारत को माओवादी और पाकिस्‍तान आधारित आतंकियों के हमले झेलने पड़े. भारतीय अधिकारियों ने जम्‍मू कश्‍मीर में सीमापार के हमलों के लिए लगातार पाकिस्‍तान को दोष दिया.

रिपोर्ट के अनुसार, 'जनवरी में भारत में पंजाब के पठानकोट में भारतीय सेना के एक ठिकाने पर आतंकी हमला हुआ. इस हमले का दोष भारत ने जैश ए मोहम्‍मद को दिया. 2016 के दौरान भारत ने संयुक्‍त राष्‍ट्र के साथ आतंकवादरोधी सहयोग और सूचना के लिए मदद मांगी.'


अधिक विदेश की खबरें

पाक सेना के टॉप ऑफिसर्स के साथ इमरान खान की हाईलेवल मीटिंग, भारत से लगी पूर्वी सीमा का हुआ जिक्र..

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना, वायुसेना और नौसेना के शीर्ष अधिकारियों के साथ देश के ... ...