सेहत से जुड़े कई राज खोलते हैं आपके होंठ
सेहत से जुड़े कई राज खोलते हैं आपके होंठ


गुलाबी पिंक होंठ पाने की इच्छा तो हर किसी की होती है। महिलाओं की नैचुरल पर्सनैलिटी में होंठ को सबसे अट्रैक्टिव अंग माना जाता है लेकिन सिर्फ खूबसूरती ही नहीं बल्कि यह आपकी सेहत से जुड़े बहुत सारे संकेत भी देते हैं। शरीर अगर किसी बीमारी के घेरे में आ रहा है तो होंठों का रंग बदलना शुरू हो जाता हैं जिसे लोग नजरअंदाज कर देते हैं। अगर आपके होंठों के रंग में बदलाव आना शुरू हो जाता है तो समझ लीजिए आपको सेहत संबंधी कोई ना कोई दिक्कत आने वाली है।अंदरूनी अंग, शरीर का तापमान और खून से जुड़ी समस्याओं का पता आपके होंठों का रंग बता देता है। अगर होंठों का रंग पीला, बहुत ज्यादा लाल या काला, नीला-जामुनी या फिर सफेद सा दिखाई पड़ता है तो लापरवाही ना बरतते हुए सेहत पर तुरंत ध्यान दें। 

1. पीले और सफेद होंठ
कुछ लोगों के होंठों का रंग गुलाबी होने की बजाए पीला और कुछ का सफेद होता है।ऐसा कुदरती नहीं बल्कि एनीमिया यानि खून की कमी की वजह से होता है। रक्त में लाल हीमोग्घ्लोबिन में रक्घ्त कणों की कमी होने के कारण होंठों का रंग बदलना शुरू हो जाता है। होंठों के रंग में इस तरह का कोई बदलाव दिखाई दे तो डॉक्टरी सलाह जरूर लें और अपने खाने में आयरन, कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन के अलावा पोषक तत्वों को शामिल करना शुरू करें। 

2. लाल होंठ
होंठों का रंग बहुत ज्यादा लाल है तो यह भी सेहत संबंधी किसी समस्या का संकेत हो सकता है। इसकी वजह लीवर का कमजोर या फिर सही तरीके से काम न करना हो सकता है। इसके अलावा किसी खान-पान की किसी चीज से एलर्जी के कारण भी होंठों का रंग बहुत ज्यादा लाल दिखाई देने लगता है, जिससे कई बार होंठों पर सूजन भी आ सकती है। 


3. जामुनी होंठ
होंठों का रंग बदलना कोई आम बात नहीं है। सेहत की गड़बड़ी से होंठों के रंग में बदलाव आना शुरू हो जाता है। अगर होंठों का नैचुरल गुलाबी रंग बदल कर जामुनी हो गया है तो दिल और फेफड़ों के साथ पाचन क्रिया में गड़बड़ी इसकी वजह हो सकती है। ऐसे में फाइबर और मिनरल्स युक्त आहार को अपनी डाइट में शामिल करना शुरू कर दें और डॉक्टरी सलाह जरूर लें। 

4. काले होंठ
वैसे तो कई तरह के ब्यूटी प्रॉडक्ट के इस्तेमाल से भी होंठ काले पड़ने शुरू हो जाते हैं। धूम्रपान से भी होंठों का रंग काला होना शुरू हो जाता है लेकिन अगर इन प्रॉडक्ट का इस्तेमाल नहीं कर रहे और फिर भी होंठों का रंग काला पड़ रहा है तो शरीर में पानी की कमी, हार्मोंस का असंतुलन,विटामिन और फैटी एसिड की कमी हो सकती है। इन सब परेशानियों से बचने के लिए अपनी डाइट का खास ख्याल रखें। 

अन्य समस्याएं

- सूखे और फटे होंठ
कुछ लोगों के होंठ सूखे और बार-बार फट जाते हैं। ऐसा या तो सस्ते ब्यूटी प्रॉडक्ट्स इस्तेमाल करने की वजह से होता है जो आपके होंठों की नमी को सोख लेता है। इसके अलावा शरीर में न्यूट्रिएंट्स की कमी और इम्यून सिस्टम खराब होने पर भी अक्सर आपके होंठ सूख जाते हैं। विटामिन सी, न्यूट्रिएंट्स की कमी और इम्यून सिस्टम खराब होने पर आपके होंठ फट सकते हैं। अगर आपके होंठ लगातार फटे रहते हैं तो ये डायबिटीज होने का भी संकेत हो सकते हैं।

- होंठों के किनारे फटना
शरीर में विटामिन बी12 की कमी और फंगल इंफैक्शन की वजह से होंठों के किनारे फट जाते हैं इसलिए ऐसी कोई प्रॉब्लम होने पर तुरंत डॉक्टरी जांच करवाएं।


अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें