'इसी का नाम जिंदगी' संस्था के बैनर तले आयोजित हुई  करवा क्वीन और डांस प्रतियोगिता, महिलाओं ने जमकर दिखाया अपना हुनर
karva queen Contest


लखनऊ, लखनऊ की मेयर संयुक्ता भाटिया की गरिमामयी उपस्थिति में राजधानी की महिलाओं ने दीपावली और करवा चौथ सेलिब्रेशन राजधानी के एक होटल में मनाया. प्रोग्राम की शुरुवात मुख्य अथिति संयुक्ता भाटिया के दीप प्रज्वलन से हुई तत्पश्चात नीता शुक्ला ने गणेश वंदना गयी. इस प्रोग्राम का आयोजन 'इसी का नाम जिंदगी' संस्था के बैनर तले संस्था की ओनर कविता शुक्ला ने किया था. 




प्रोग्राम में आयी महिलों के जोश ने एक बारे फिर साबित कर दिया की जीवन की जीवंतता उम्र से नहीं हौसलों से होती है. अगर हौसला है तो फिर बढ़ती उम्र भी आपकी प्रतिभा को निखरने से रोक नहीं सकती. इसी सोच और जोश के साथ जब प्राची, पारुल, शिवाली, अंकिता, आकांशा, कांति आदि महिलों ने अपनी डांस परफॉर्मेंस दी तो मौजूद हर शख्स को उनके हुनर के आगे झुकना पड़ा., सभी ने इन महिलों के जोश और हुनर की दिल खोलकर तारीफ की. 




प्रोग्राम में करवा क्वीन प्राची बनी जबकि अंशु सेकंड और पारुल थर्ड रही. इसी तरह डांसिंग का ताज अंकिता श्रीवास्तव के सर पर सजा जबकि सिंगिंग का ताज सलीमा ने अपने नाम किया. कांटेस्ट की जज रानी श्रीवास्तव और दिव्या शुक्ला रही. 




इस मौके पर पायनियर एलायंस के बात करते हुए कविता ने कहा कि ये बहुत जरुरी है कि हम उम्र के सेकण्ड स्टेज पर पहुँच चुकी महिलाओं को भी उनके हुनर को प्रदर्शित करने का मुका दें. कविता ने कहा कि ये महिलाओं के उम्र का एक ऐसा पायदान होता है जहाँ उनमे नीरसता आ जाती है और हमारी संस्था 'इसी का नाम जिंदगी' का काम ही यही है कि जिनके नीरसता हो उन्हें मनोरंजन एक नए उत्साह से भर दो क्योकि मनोरंजन ही अपनी जिंदगी को बेहतर बनने का सबसे कारगर तरीका है.     



   

अधिक इवेंट/पार्टी की खबरें