फिलहाल 2019 के चुनाव के लिए अभी राजनैतिक दलो के प्रति आस्था, निष्ठा, विश्वास बदलने की नेताओं की शुरूआत हुई है। ऐसी शुरूआत अचानक हर विधानसभा और लोकसभा चुनाव के कुछ दिन पूर्व या फिर टिकटों के वितरण के साथ शुरू होती है। अभी तो लगभग दो दर्जन ऐसे नेताओं ने पार्टी बदली है जिनका टिकट काॅटा गया या फिर कटने की पूरी सम्भावना थी। भाजपा के श्यामा चरण गुप्ता और सवित्री बाई फूले तो कांग्रेस के टाॅम बडक्कन का सामने है।