2018 में 5 हजार करोड़ फंडिंग के साथ 63 प्रतिशत सैनिटेशन कवरेज में बढ़ोतरी हुई है।