वाराणसी हादसा: शुरू से ही विवादों में रहा फ्लाईओवर का निर्माण, कई बार बदली गई DPR

वाराणसी हादसा: शुरू से ही विवादों में रहा फ्लाईओवर का निर्माण, कई बार बदली गई DPR

मंगलवार शाम वाराणसी कैंट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन पुल के दो बीम के गिरने से 18 लोगों की मौत हो गई, लेकिन हादसे की वजह लापरवाही और प्रशासनिक चूक भी है. अखिलेश सरकार में 1 अक्टूबर 2015 को चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के विस्तारीकरण का शिलान्यास हुआ और निर्माण शुरू किया गया. तब से लेकर आज तक इस फ्लाईओवर का निर्माण विवादों में ही रहा.

वाराणसी हादसा: मलबे से निकाली गईं 18 लाशें, योगी बोले- 48 घंटे में सौंपे जांच रिपोर्ट

वाराणसी हादसा: मलबे से निकाली गईं 18 लाशें, योगी बोले- 48 घंटे में सौंपे जांच रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार की शाम एक बड़ा हादसा हो गया. कैंट रेलवे स्टेशन के पास निर्माणाधीन पुल का एक बड़ा हिस्सा गिर जाने से इसकी चपेट में कई वाहन आ गए. चारों तरफ चीख-पुकार और अफरा-तफरी मच गई. राहत व बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है. डीजीपी ओपी सिंह ने इस हादसे में 18 लोगों के मौत की पुष्टि की है, वहीं 25 लोग घायल बताए जा रहे हैं.