राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने व्यापार को आम आदमी के हित का माध्यम बताते कहा कि देश में आर्थिक सुधारों का उद्येश्य गरीबी दूर करना और समृद्धि बढ़ना है। उन्होंने भारत के वार्षिक अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले को ‘लघु भारत’ का स्वरूप बताते हुए आज कहा कि इस मेले में देश की विविध संस्कृति और व्यापारिक गतिविधियों की झलक मिलती है।