उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए बने सपा बसपा गठबंधन में जगह तलाश रही राष्ट्रीय लोकदल की गणित कैराना मॉडल पर बैठती दिख रही है. दरअसल पिछले साल कैराना लोकसभा उपचुनाव में सपा की नेता तबस्सुम हसन को रालोद के टिकट पर गठबंधन का प्रत्याशी बनाया गया था. तबस्सुम हसन ने बीजेपी से बड़े अंतर से ये सीट जीत ली थी.