8 विकेट लेते ही अश्विन रच देंगे ये इतिहास
एक के बाद एक जीत हासिल करने वाली टीम इंडिया अब अपने ही घर में श्रीलंका से भिड़ने के लिए तैयार है.


नई दिल्ली : एक के बाद एक जीत हासिल करने वाली टीम इंडिया अब अपने ही घर में श्रीलंका से भिड़ने के लिए तैयार है. इससे पहले श्रीलंका में भी भारतीय टीम ने जबर्दस्त खेल दिखाते हुए लंगाई टीम का टेस्ट सीरीज में भी सफाया कर दिया था. 16 नवंबर से टीम इंडिया और श्रीलंका की टीम कोलकाता में पहले टेस्ट में आमने सामने होंगी. इस मैदान पर टेस्ट मैचों में भारत की श्रीलंका के साथ पहली भिड़ंत होगी.

श्रीलंका के साथ टेस्ट मैचों में सबकी निगाहें इस बार भारत के स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन पर होंगी. रविंद्र जडेजा के साथ अश्विन की भी टेस्ट टीम में वापसी हुई है. दोनों को काफी समय से टीम इंडिया से बाहर रखा गया था. लेकिन टेस्ट मैचों में टीम इंडिया की गेंदबाजी इन दोनों के कंधों पर ही टिकी होगी. ऐसे में सबसे ज्यादा निगाहें अश्विन पर होंगी.

अश्विन के प्रदर्शन पर सबसे ज्यादा नजरें इसलिए होंगी, क्योंकि वह इस सीरीज में एक बड़ा कारनामा कर सकते हैं. तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में अगर अश्विन 8 विकेट अपने नाम कर लेते हैं तो वह टेस्ट मैचों में दुनिया में सबसे तेज गति से 300 विकेट लेने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे. श्रीलंका के खिलाफ पिछली सीरीज में अश्विन ने 17 विकेट हासिल किए थे. ऐेसे में भारत में खेले जा रहे 3 टेस्ट मैचों में अश्विन के लिए 8 विकेट लेना मुश्किल नहीं होगा.

टेस्ट मैचों में अब तक सबसे तेज गति से 300 विकेट लेने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज डेनिस लिली के नाम पर है. उन्होंने ये कारनामा 56 टेस्ट मैचों में किया था. लेकिन अश्विन ये रिकॉर्ड उससे पहले ही अपने नाम कर सकते हैं. अभी अश्विन ने 52 टेस्ट मैचों में 292 विकेट अपने नाम किए हैं. वैसे अश्विन अब तक श्रीलंका के खिलाफ 6 मुकाबलों में 38 विकेट अपने नाम कर चुके हैं. टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड श्रीलंकाई स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के नाम पर है. मुरली ने 133 टेस्ट मैचों में 800 विकेट हासिल किए हैं.

सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों में दूसरे नंबर पर शेन वार्न और तीसरे नंबर पर अनिल कुंबले का नाम है. सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों के मामलों में अश्विन दुनिया में 32वें नंबर पर है.

अधिक खेल की खबरें