उसैन बोल्ट दे रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को तेज दौड़ने की ट्रेनिंग
इंग्लैंड के खिलाफ एशेज सीरीज से ठीक पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने खिलाड़ियों को बोल्ट से ट्रेनिंग दिलवाई है।


नई दिल्ली : दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट अब कोच की भूमिका में नजर आ रहे हैं। लेकिन, वह कोचिंग किसी रेसर को नहीं, बल्कि ऑस्ट्रेलियाई टीम को दे रहे हैं। इंग्लैंड के खिलाफ एशेज सीरीज से ठीक पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने खिलाड़ियों को बोल्ट से ट्रेनिंग दिलवाई है। जमैका के इस रेसर को मैदान पर कंगारू खिलाड़ियों को रनिंग बिटवीन द विकेट (विकेटों के बीच दौड़) ठीक करने के लिए ट्रेनिंग देते हुए देखा गया। 

फास्टेस्ट 100 और 200 मीटर दौड़ का वर्ल्ड रेकॉर्ड अपने नाम रखने वाले बोल्ट की इस ट्रेनिंग से एशेज सीरीज में कंगारू खिलाड़ियों को काफी मदद मिलेगी। ट्रेनिंग लेने वाले खिलाड़ियों की एक तस्वीर सामने आई है। उसमें पीटर हैंड्सकॉम, ग्लेन मैक्सवेल और एरॉन फिंच सहित कई दिग्गज खिलाड़ी नजर आ रहे हैं। सभी बल्लेबाजों के हाथ में बल्ला है और बोल्ट व्हिसल बताते दिख रहे हैं। 

इस बारे में ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज पीटर हैंड्सकॉम ने कहा- ब्रिस्बेन टेस्ट से पहले मिले बोल्ट के टिप्स हमारे काम आएंगे। उन्होंने हमें कुछ पॉइंट बताए हैं, जिससे हम अपनी दौड़ को और बेहतर बना सकते हैं। उन्होंन हमें बताया कि शुरुआती कदम अगर ठीक होते हैं तो हम अपनी रफ्तार को और तेज कर पाएंगे। उन्होंने बताया कि रेस की शुरुआत कैसे करनी चाहिए? पीटर ने बताया कि बोल्ट दुनिया के सबसे तेज धावक हैं। अगर हम उनके साथ सीरीज जीतते हैं तो काफी बेहतर होगा। बता दें कि कंगारू टीम इंग्लैंड के साथ पहला टेस्ट ब्रिस्बेन में 23 नवंबर से खेलेगी। 

दूसरी ओर 8 ओलिंपिक गोल्ड जीत चुके बोल्ट ने कहा, 'रिटायरमेंट के बाद फुटबॉल में बिजी हो गया था। बुंडेस्लिगा टीम के साथ ट्रेनिंग ली। मैं यह करना चाहता था। फिलहाल तो मैं खुद को फिट रखने की कोशिश कर रहा हूं। बता दें कि इसी साल बोल्ट ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेने के बाद ऐथलेटिक्स से रिटायरमेंट ले लिया था। उन्होंने अपनी चोट के बारे में बताया कि मेरे डॉक्टर ने मुझे अब फिट बताया है। अब मैं अपनी ट्रेनिंग शुरू कर सकता हूं। 

अधिक खेल की खबरें