वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप : मीराबाई ने भारत को दिलाया गोल्ड मेडल
मीराबाई ने भारत को दिलाया गोल्ड मेडल


नई दिल्‍ली। सैखोम मीराबाई चानू ने वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में रेकॉर्ड 194 किलोग्राम (85 किलो स्नैच और 109 किलो क्लीन ऐंड जर्क) का भार उठाते हुए गोल्ड मेडल हासिल किया। चानू यह कारनामा कर दिखाने वाली दूसरी भारतीय वेटलिफ्टर हैं। इससे पहले कर्णम मल्‍लेश्‍वरी भारत की पहली वर्ल्‍ड चैंपियन बनीं थीं। 22 साल पहले उन्‍हें गोल्‍ड मेडल मिला था। चानू ने अमेरिका के आनाहिम में हुई चैंपियनशिप्स में महिलाओं के 48 किग्रा इवेंट में हिस्सा लिया था।

उन्होंने पहले 85 किग्रा तक का भार सफलतापूर्वक उठाया और इसके बाद 109 किग्रा भार भी उठा लिया। उन्होंने देश को इस स्पर्धा में दूसरा गोल्ड मेडल दिलाया। देश को पहला गोल मेडल 1995 में मल्लेश्वरी ने दिलाया था। बता दें कि सितंबर में चानू ने अगले साल होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए अपनी जगह पक्की कर ली है। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में संपन्न कॉमनवेल्थ सीनियर वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप्स में गोल्ड मेडल जीता था। पोडियम पर खड़े होकर तिरंगा देखकर गोल्ड विजेता चानू की आंखों से आंसू निकल गए। थाईलैंड की सुकचारोन तुनिया ने रजत और सेगुरा अना इरिस ने कांस्य पदक जीता। डोपिंग से जुड़े मसलों के कारण रुस, चीन, कजाखस्तान, उक्रेन और अजरबैजान जैसे भारोत्तोलन के शीर्ष देश इसमें भाग नहीं ले रहे हैं।


अधिक खेल की खबरें