दिल्ली में फिर पलूशन की 'मार', सुरंगा लकमल ने मैदान में की उल्टी
जब भारत ने अपनी दूसरी पारी शुरू की तो मेहमान टीम के करीब सात खिलाड़ी मास्क पहनकर मैदान पर उतरे।


नई दिल्ली : दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर भारत के खिलाफ खेले जा रहे तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच के चौथे दिन मंगलवार को एक बार फिर श्री लंकाई खिलाड़ी मैदान पर मास्क पहन कर उतरे। वहीं मेहमान टीम के तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने बीच मैदान पर ही उल्टी कर दी। चौथे दिन 9 विकेट के नुकसान पर 356 रनों से आगे खेलने उतरी श्री लंकाई टीम दिन के छह ओवरों में कुल 373 रनों पर ही सिमट गई। 

जब भारत ने अपनी दूसरी पारी शुरू की तो मेहमान टीम के करीब सात खिलाड़ी मास्क पहनकर मैदान पर उतरे। इन खिलाड़ियों में कप्तान दिनेश चंडीमल, एंजेलो मैथ्यूज, सदीरा समाराविक्रमा, धनंजय डी सिल्वा शामिल हैं। हालांकि विकेटकीपर निरोशन डिकवेला के अलावा लकमल ने मास्क नहीं पहने थे। लकमल ने 10वें ओवर में मैदान पर वापसी की। 

इससे पहले लकमल छठे ओवर में उल्टी के बाद मैदान से बाहर चले गए थे। मैच के दूसरे दिन के दूसरे सत्र में भी श्रीलंका के पांच से ज्यादा खिलाड़ी मैदान पर मास्क पहनकर उतरे थे। हालांकि श्रीलंका के किसी भी खिलाड़ी ने बल्लेबाजी के दौरान मास्क नहीं पहना था। 

इस बीच भारत दौरे के लिए चुनी गई श्री लंका वनडे टीम के 9 खिलाड़ियों को क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों ने एयरपोर्ट से वापिस बुला लिया। सूत्रों के मुताबिक, श्री लंका क्रिकेट के अधिकारियों ने खिलाड़ियों को एयरपोर्ट पर ही रोक लिया। सूत्रों ने बताया कि श्री लंका के खेल मंत्री ने भारत जाने के लिए खिलाड़ियों को अनुमति नहीं दी थी। इन खिलाड़ियों को सुबह 10 बजे दिल्ली पहुंचना था। खिलाड़ियों को रोके जाने का कारण दिल्ली पलूशन को माना जा रहा है। 

एंजेलो मैथ्यूज ने तीसरे दिन की पारी में दो सत्र तक बिना मास्क पहने बल्लेबाजी की थी। वहीं कप्तान चंडीमल ने तीसरे दिन के अंत तक बिना मास्क पहने बल्लेबाजी की थी। चौथे दिन भी दिनेश चंडीमल ने जितनी बल्लेबाजी की, उस दौरान मास्क नहीं पहना था। चंडीमल 164 रन बनाकर श्री लंकाई टीम की पहली पारी में 10वें विकेट के रूप में पविलियन लौटे और उन्होंने अपने टेस्ट करियर का सर्वश्रेष्ठ निजी स्कोर बनाया। 

अधिक खेल की खबरें