दुनिया में बेस्ट हैं विराट कोहली: जावेद मियांदाद
अपने करियर में 233 वनडे मैच खेलने वाले मियांदाद ने 41.70 की औसत से कुल 7381 रन बनाए थे।


नई दिल्ली : पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और 80 के दशक के उम्दा बल्लेबाज जावेद मियांदाद ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें 'जीनियस और दुनिया का बेहतरीन बल्लेबाज' करार दिया है। बुधवार को, कोहली ने अपने वनडे करियर की 34वीं सेंचुरी ठोकी- इस पारी में उन्होंने नाबाद 160 रन बनाए। इसकी बदौलत भारत ने साउथ अफ्रीका को केप टाउन में 124 रनों से मात दी और 6 मैचों की वनडे सीरीज में 3-0 की बढ़त बना ली।

मियांदाद ने पाकपैशनडॉटनेट वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में विराट की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कोहली तकनीकी रूप से इतने दक्ष हैं कि वह भारत को मुश्किल चुनोतियों से उबारकर अपनी टीम को जीत दिलाते हैं। उनकी यह कला उन्हें 'महान' बल्लेबाज का तमगा दिलाती है। बता दें अपने दौर में मियांदाद भी ऐसी ही क्रिकेट के लिए जाने जाते थे। मियांदाद अपने इंटनैशनल क्रिकेट में 357 इंटरनैशनल मैच खेलकर 16,213 रन बनाए थे। 

विराट की तारीफ में मियांदाद ने कहा, 'विराट का बैटिंग स्टाइल उसे रन बनाने में मददगार होता है। वह एक या दो बार नहीं बल्कि जब भी बैटिंग पर आता है रन करता है। अगर किसी बल्लेबाज की तकनीक खराब होती है, तो वह तब भी कभी-कभार स्कोरबोर्ड पर रन टांग देते हैं, लेकिन वे ऐसा हमेशा नहीं कर पाते। कोहली के केस में बिल्कुल यही है। उसकी शानदार तकनीक उसे रन करने में मदद करती है और मेरी नजर में वह महान खिलाड़ी है। कोहली परिस्थितियों को भांप कर गेंदबाज की कमजोरियों और उसके मजबूत पक्ष को समझ लेता है और उसी के अनुसार अपनी तकनीक में परिवर्तन ले आता है। वह जीनियस है, जो दुनिया का महान बल्लेबाज है।' 

अपने करियर में 233 वनडे मैच खेलने वाले मियांदाद ने 41.70 की औसत से कुल 7381 रन बनाए थे। इस मौके पर उन्होंने हाल में न्यू जीलैंड में संपन्न हुए अंडर-19 विश्व कप पर भी चर्चा की। इस वर्ल्ड कप को पृथ्वी शॉ की कप्तानी में भारत ने अपने नाम किया है, जिसके कोच राहुल द्रविड़ रहे हैं। भारत की अंडर-19 टीम इस पूरे टूर्नमेंट में अजेय रही। इस टूर्नमेंट के सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को महज 69 रन पर समेट दिया और अपने चिर-प्रतिद्वंद्वी को 203 रनों से मात दी। पाकिस्तान की इस सीरीज में उसके सिर्फ दो ही बल्लेबाज दहाई के अंक को छू पाए थे। 

मियांदाद ने इस मौके पर अपनी जूनियर टीम की तारीफ की। उन्होंने कहा कि जूनियर क्रिकेटर्स संसाधनों की कमी होने के बावजूद टूर्नमेंट के नॉकआउट राउंड तक पहुंचे यह काबिलेतारीफ है। भारत से मिली हार पर उनकी तुलना करना गलता है, संसाधनों के अभाव के बावजूद उन्होंने शानदार खेल दिखाया। 

अधिक खेल की खबरें