कोहली के सामने मुझे भी गेंदबाजी करने में दिक्कत होती है : वसीम अकरम
केप टाउन में टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली की 160 रनों की पारी के बाद तमाम दिग्गजों ने इस भारतीय बल्लेबाज की तारीफों के पुल बांधे हैं।


नई दिल्ली : केप टाउन में टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली की 160 रनों की पारी के बाद तमाम दिग्गजों ने इस भारतीय बल्लेबाज की तारीफों के पुल बांधे हैं। माइकल क्लार्क, डेविड वॉर्नर, जावेद मियांदाद, माइक हसी के बाद अब महान तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने कोहली की तारीफ की है। अकरम ने कहा कि भारतीय रन मशीन के सामने उन्हें भी गेंदबाजी करने में दिक्कत होती। इससे पहले पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज जावेद मियांदाद ने कोहली को जीनियस और दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज करार दिया था।

एक इंटरव्यू में वसीम अकरम ने कोहली की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि कोहली की फिटनेस ने उन्हें एक नए स्तर पर पहुंचाया है। अकरम ने कहा, 'निश्चित तौर पर फिटनेस बहुत मायने रखती है। एक निश्चित उम्र के बाद बल्लेबाज दक्ष हो जाता है और उसे अंदाजा हो जाता है कि किस तरह वह रन बना सकता है। मुझे लगता है कि कोहली को 2-3 साल पहले इसका अंदाजा हो गया कि कैसे ज्यादा से ज्यादा रन बनाते हैं और हालात के हिसाब से किस तरह के शॉट खेलने चाहिए।' 

सर्वकालिक महान गेंदबाजों में शुमार वसीम अकरम ने स्वीकार किया कि उन्हें खुद कोहली के सामने गेंदबाजी में परेशानी होती, भले ही किसी भी तरह की पिच हो। अकरम ने कहा, 'कोहली को खेलते देखना खुशी देता है। अगर मैं भी युवा होता और विराट कोहली के सामने गेंदबाजी करता तो मेरे लिए भी कठिनाई होती कि उनके लिए कहां गेंद फेंकूं। चाहे जिस तरह की पिच होती, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि वह (कोहली) एक संपूर्ण खिलाड़ी हैं। मुझे लगता है कि वर्ल्ड क्रिकेट में सचिन के बाद अब उनकी बारी है।' 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ पिछले एकदिवसीय मैच में विराट की शानदार पारी की तारीफ करते हुए अकरम ने कहा, 'वह (कोहली) सभी चीजों में बहुत अच्छे हैं और आपने लक्ष्य का पीछा करते हुए उनके शानदार रेकॉर्ड्स को देखा ही है। वह एकदिवसीय क्रिकेट में 90 की औसत से रन बना रहे हैं और अब उन्होंने पहली पारी में भी 160 रनों (नाबाद) की पारी खेली है।' 

अधिक खेल की खबरें