INDvsENG 1st Test: एक ही मैच में हुआ एक्शन रीप्ले, कुक दो बार ऐसे हुए आउट
File Photo


बर्मिघम :  भारत और इंग्लैंड के बीच  बर्मिंघम के एजबेस्टन में चल रहे पहले टेस्ट मैच में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया को 274 रनों पर समेटने और पहली पारी में 13 की बढ़त लेने के बाद इंग्लैंड ने एक विकेट खोकर 9 रन बना लिए थे. दिन का खेल खत्म होने से कुछ देर पहले जब इंग्लैंड की दूसरी पारी 13 रन की बढ़त के साथ शुरु हुई तो मैच में फिर एक्शन रीप्ले देखने को मिला. शायद क्रिकेट के इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ हो कि एक ही मैच में एक ही गेंदबाज ने एक ही बल्लेबाज को एक ही तरह की गेंद फेंक कर आउट किया हो. और वह बल्लेबाज भी दोनों ही बार उस गेंद को एक ही तरह से खेलने की कोशिश में  बोल्ड हो गया हो. 

यह संयुक्त उपलब्धि हासिल करने वाले गेंदबाज रहे भारत को रविचंद्रन अश्विन और बल्लेबाज थे इंग्लैंड के एलिस्टर कुक. मजे की बात यह रही की कुक इंग्लैंड की पहली पारी मे भी आउट होने वाले पहले बल्लेबाज रहे और दूसरी पारी में भी इंग्लैंड के आउट होने वाले पहले बल्लेबाज रहे. अश्विन ने एक बार फिर दूसरी पारी में एलिस्टर कुक को बिलकुल पहली पारी की तरह बोल्ड आउट किया, जिसके साथ ही अंपायरों ने दूसरे दिन का खेल समाप्त घोषित कर दिया. दूसरी पारी में इंग्लैंड का स्कोर 3.4 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 9 रन हो गया था और उसकी बढ़त 21 रन हो गई थी. 

इससे पहले अश्विन ने इंग्लैंड की पहली पारी में कुक को 13 रन के निजी स्कोर पर पारी के 8वें ओवर में ही आउट कर दिया था. लेकिन दूसरी पारी ने अश्विन ने उन्हें चौथे ओवर में ही आउट कर दिया. 

उससे पहले टीम इंडिया ने सुबह इंग्लैंड की पारी को 287 रनों पर समेटने के बाद अपनी अपनी पहली पारी में 274 रन बनाए जिसमें कप्तान विराट कोहली के शानदार 149 रन शामिल था जबकि एक समय भारत का स्कोर पांच विकेट पर केवल 100 रन ही था.  विराट के बाद शिखर धवन ने 26 रन, हार्दिक पांड्या ने 22 रन, मुरली विजय ने 20 रन, आजिंक्य रहाणे ने 15 रन और रविचंद्रन अश्विन ने 10 रन बनाए. इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा विकेट 4 विकेट सैम कुरैन ने लिए थे. वहीं जेम्स एंडरसन, बेन स्टोक्स और आदिल राशिद ने  दो-दो विकेट लिए. इस तरह टीम इंडिया का पहली पारी का स्कोर 274 रन हो गया जो कि इंग्लैंड की पहली पारी के 287 से केवल 13 रन कम था. 

मैच खुल गया विराट की वजह से 
इस मैच में विराट की पारी की वजह से मैच एक बार फिर खुल गया है. केवल 13 रनों की मामूली बढ़त होने के कारण इंग्लैंड ने भारत पर हावी होने का मौका खो दिया. इसके जिम्मेदार पूरी तरह से इंग्लैंड के ही खिलाड़ी रहे. विराट कोहली को लगातार जीवनदान देते रहना इंग्लैंड पर बहुत भारी पड़ा. विराट ने भी जल्दी ही अपनी लय हासिल भी कर ली और 22 चौके और एक छक्का लगाते हुए भारत के आधे से ज्यादा रन बना डाले. इंग्लैंड 13 रन की बढ़त और जल्द ही एक विकेट गंवाने के बाद यह टेस्ट मैच एक पारी का रह गया है. 

अधिक खेल की खबरें