साउथ अफ्रीका ने श्रीलंका को 96 रन से हराया
श्री लंका की ओर से कार्यवाहक कप्तान उपुल थरंगा ने 57 जबकि निरोशन डिकवेला ने 41 रन की पारी खेली।


लंदन : हाशिम अमला के शतक के बाद इमरान ताहिर के फिरकी के जादू से साउथ अफ्रीका ने आईसीसी चैंपियंस ट्रोफी के ग्रुप बी मैच में शनिवार को श्री लंका को 96 रन से हराकर अपने अभियान की शुरुआत जीत के साथ की। 

साउथ अफ्रीका के 300 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए श्री लंका की टीम ताहिर (27 रन पर चार विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने 41.3 ओवर में 203 रन पर ढेर हो गई। क्रिस मॉरिस ने भी 32 रन देकर दो विकेट चटकाए। श्री लंका की ओर से कार्यवाहक कप्तान उपुल थरंगा ने 57 जबकि निरोशन डिकवेला ने 41 रन की पारी खेली। कुशाल परेरा 66 गेंद में 44 रन बनाकर नाबाद रहे। 

इससे पहले अमला ने 115 गेंद में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 103 रन की पारी खेलने के अलावा फॉफ डु प्लेसिस (75) के साथ दूसरे विकेट के लिए 145 रन की साझेदारी भी की जिससे साउथ अफ्रीका ने छह विकेट पर 299 रन बनाए। जेपी डुमिनी (20 गेंद में 38 रन) ने अंत में तेजतर्रार पारी खेलकर टीम का स्कोर 300 रन के करीब पहुंचाया। 

श्री लंका के सबसे सफल गेंदबाज नुवान प्रदीप रहे जिन्होंने 54 रन देकर दो विकेट चटकाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरे श्री लंका को निरोशन डिकवेला (41) और अनफिट एंजेलो मैथ्यूज की जगह कप्तानी की बागडोर संभाल रहे थरंगा ने पहले विकेट के लिए 8.2 ओवर में 69 रन जोड़कर तेज शुरुआत दिलाई। थरंगा दो रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब कागिसो रबादा ने अपनी ही गेंद पर उनका कैच छोड़ दिया। 

डिकवेला ने वेन पार्नेल पर तीन चौके मारे। डिकवेला ने रबादा की लगातार गेंदों पर छक्के और चौके के साथ सातवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। थरंगा ने भी पार्नेल की लगातार गेंदों पर चौके जड़े। मोर्ने मॉर्कल ने डिकवेला को थर्ड मैन पर पार्नेल के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोडा। उन्होंने 33 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा।

कुसाल मेंडिस (11) ने आते ही मोर्कल पर लगातार दो चौके मारे लेकिन मौरिस के पहले ही ओवर में एबी डिविलियर्स को कैच दे बैठे। श्री लंका के 100 रन 14वें ओवर में पूरे हुए। दिनेश चंडीमल (12) डि विलियर्स के शानदार क्षेत्ररक्षण का शिकार बनकर रन आउट हुए जबकि ताहिर ने दो गेंद बाद चामरा कपुगेदेरा (00) को पगबाधा करके श्री लंका का स्कोर 18वें ओवर में चार विकेट पर 117 किया। 

थरंगा ने ताहिर की गेंद पर दो रन के साथ 59 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसी लेग स्पिनर की गेंद पर डेविड मिलर को कैच दे बैठे। उन्होंने 69 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे। ताहिर ने इसके बाद असेला गुणारत्ने (04) को अपना तीसरा शिकार बनाया जिन्होंने एक्सट्रा कवर पर पार्नेल को आसान कैच थमाया। परेरा और सेकुगे प्रसन्ना (13) ने कुछ देर विकेटों के पतन को रोका। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 36 रन जोड़े। मॉरिस ने प्रसन्ना को पगबाधा करके इस साझेदारी को तोड़ा। 

ताहिर ने इसके बाद सुरंगा लकमल (00) को रन आउट किया। लसिथ मलिंगा (01) ने रबादा की गेंद को विकेटों पर खेला। परेरा ने रबादा पर चौके के साथ 41वें ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। ताहिर ने नुवान प्रदीप (05) को डुमिनी के हाथों कैच कराके श्री लंका की पारी का अंत किया। 

थरंगा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद साउथ अफ्रीका की शुरुआत धीमी रही। लसिथ मलिंगा और सुरंगा लकमल के पहले छह ओवर में कोई बाउंड्री नहीं लगी। क्विंटन डि कॉक ने मलिंगा पर चौके के साथ सातवें ओवर में पारी की पहली बाउंड्री लगाई। अमला ने अपना पहला चौका 10वें ओवर में लकमल पर जड़ा। टीम ने पहले 10 ओवर में 32 रन बनाए। डि कॉक हालांकि 42 गेंद में सिर्फ 23 रन बनाने के बाद प्रदीप की गेंद पर विकेटकीपर डिकवेला को कैच दे बैठे।

अमला और फाफ डु प्लेसिस ने इसके बाद पारी को संवारा। डु प्लेसिस ने स्ट्राइक रोटेट करने की अधिक तवज्जो दी और खराब गेंदों को सबक भी सिखाया। अमला ने सेकुगे प्रसन्ना पर चौके के साथ 14वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। डु प्लेसिस हालांकि आठ रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब प्रदीप की गेंद पर लांग लेग बाउंड्री पर मलिंगा ने उनका कैच टपका दिया। 


अमला ने 19वें ओवर में असेला गुणारत्ने पर पारी का पहला छक्का जड़ा। साउथ अफ्रीका के रनों का सैकड़ा 22वें ओवर में पूरा हुआ। अमला ने इसी ओवर में प्रसन्ना पर चौके और फिर एक रन के साथ 56 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। डु प्लेसिस ने भी 52 गेंद में 50 रन पूरे किए लेकिन इसके बाद प्रदीप की गेंद पर मिडविकेट में चंडीमल ने उनका शानदार कैच लपका। उन्होंने 70 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे। 

कप्तान डि विलियर्स (04) भी अगले ओवर में प्रसन्ना की गेंद पर कपुगेदेरा को कैच थमा बैठे। अमला ने लकमल की गेंद पर एक रन के साथ 112 गेंद में 25वां एकदिवसीय शतक पूरा किया। वह डि विलियर्स (24 शतक) को पीछे छोड़कर वनडे मैचों में साउथ अफ्रीका की ओर से सर्वाधिक शतक बनाने वाले बल्लेबाज बने। वह 151 पारियों के साथ सबसे कम पारियों में 25 शतक पूरे करने वाले बल्लेबाज भी बने। उन्होंने भारतीय कप्तान विराट कोहली को पीछे छोड़ा जिन्होंने 162 पारियों में यह कारनामा किया था। 

डेविड मिलर (18) हालांकि इसी ओवर में थर्ड मैन पर प्रसन्ना को कैच दे बैठे। अमला भी इसके बाद अगले ओवर में दो रन लेने के प्रयास में रन आउट हो गए जिससे टीम का स्कोर पांच विकेट पर 232 रन हो गया। क्रिस मॉरिस (19 गेंद 20 रन) और डुमिनी ने अंतिम ओवरों में कुछ अच्छे शॉट खेलकर टीम का स्कोर 300 रन के करीब पहुंचाया। 

अधिक खेल की खबरें