Pics : चैंपियंस ट्रोफी: भारत ने पाकिस्तान को 124 रन से हराया
युवराज ने मात्र 29 बॉल पर अपने वनडे करियर की 52वीं फिफ्टी जड़ दी।


बर्मिंगम : बल्लेबाजी में रंग जमाने के बाद गेंदबाजी में भी कमाल दिखाते हुए गत चैंपियन भारत ने ICC चैंपियंस ट्रोफी के वर्षा से प्रभावित ग्रुप बी के एकतरफा मैच में रविवार को यहां पाकिस्तान को 124 रन से हराकर अपने अभियान की विजयी शुरुआत की। 41 ओवर में 289 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान की टीम उमेश यादव (30 रन पर 3 विकेट), रविंद्र जाडेजा (43 रन पर 2 विकेट) और हार्दिक पंड्या (43 रन पर 2 विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने 33.4 ओवर में 164 रन ही बना सकी। 

हाब रियाज चोटिल होने के कारण बल्लेबाजी के लिए नहीं उतरे। पाकिस्तान का कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया और उसकी ओर से अजहर अली ने सर्वाधिक 50 रन बनाए, जबकि मोहम्मद हफीज ने 33 रन का योगदान दिया। चैंपियंस ट्रोफी के 4 मैचों में पाकिस्तान के खिलाफ भारत की यह दूसरी जीत है, जबकि 2 बार उसे हार का सामना करना पड़ा है। इससे पहले भारत ने रोहित (91), कप्तान विराट कोहली (नाबाद 81), सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (68) और युवराज सिंह (53) के अर्धशतकों की बदौलत 3 विकेट पर 319 रन बनाए। 



रोहित ने 119 गेंद की अपनी पारी में 7 चौके और 2 छक्के जड़ने के अलावा धवन के साथ पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़कर टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। अंत में कोहली और युवराज ने तीसरे विकेट के लिए सिर्फ 9.4 ओवर में 93 रन की साझेदारी की। कोहली ने 68 गेंद का सामना करते हुए 6 चौके और 3 छक्के जड़े, जबकि युवराज ने 32 गेंद की अपनी पारी में 8 चौके और 1 छक्का मारा। 

पांड्या ने सिर्फ छह रन में नाबाद 20 रन बनाए। भारतीय बल्लेबाजों ने अंतिम चार ओवर में ताबड़तोड़ शॉट खेलते हुए 72 रन बटोरे। लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाजों अजहर अली और अहमद शहजाद ने जब 4.5 ओवर में 22 रन बनाए थे, तब बारिश आ गई और मैच रोकना पड़ा। मैच दोबारा शुरू होने पर पाकिस्तान को 41 ओवर में 289 रन बनाने का लक्ष्य मिला। 

अजहर ने जसप्रीत बुमराह पर 2 चौके जड़े, जबकि भुवनेश्वर कुमार (23 रन पर 1 विकेट) पर भी चौका मारा। भुवनेश्वर ने हालांकि अहमद शहजाद (12) को LBW करके पाकिस्तान को पहला झटका दिया। बाबर आजम (8) ने उमेश पर चौका जड़ा, लेकिन अगली गेंद पर बैकवर्ड पॉइंट पर जाडेजा को कैच दे बैठे। अजहर हालांकि 37 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब पांड्या की गेंद पर लॉन्ग ऑन पर भुवनेश्वर ने उनका कैच टपका दिया। अजहर हालांकि इसका फायदा नहीं उठा पाए। उन्होंने जाडेजा की गेंद पर एक रन के साथ 64 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसी ओवर में बाउंड्री पर पंड्या को कैच दे बैठे। 



उन्होंने 65 गेंद की अपनी पारी में 6 चौके मारे। शोएब मलिक (15) ने पंड्या पर लगातार 2 चौकों के साथ 22वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया। उन्होंने जाडेजा पर पारी का पहला छक्का भी मारा, लेकिन उमेश के अगले ओवर में जाडेजा ने उन्हें अपने सटीक निशाने से रन आउट करके पाकिस्तान का स्कोर 4 विकेट पर 114 रन कर दिया। मोहम्मद हफीज भी 43 गेंद में 33 रन बनाने के बाद जाडेजा की गेंद को डीप मिडविकेट पर भुवनेश्वर के हाथों में खेल गए, जबकि अगले ओवर में इमाद वसीम (0) को पांड्या की गेंद पर केवर में केदार जाधव को कैच थमाया। 

कप्तान सरफराज अहमद (15) भी पांड्या के अगले ओवर में विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी को कैच दे बैठे, जिससे पाकिस्तान का 7वां विकेट गिरा। पाकिस्तान को अंतिम 10 ओवर में जीत के लिए 135 रन की दरकार थी, जो लक्ष्य उसके लिए नामुमकिन साबित हुआ। जाधव ने उमेश की गेंद पर शादाब खान (14) का कैच छोड़ा, लेकिन इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में इस गलती को सुधारते हुए पाकिस्तान को 8वां झटका दिया। 



उमेश के इसी ओवर में हसन अली (0) को धवन के हाथों कैच कराके पाकिस्तान की पारी का अंत किया। इससे पहले पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया, जिसके बाद रोहित और धवन ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर और बाएं हाथ के स्पिनर इमाद वसीम के सामने धीमी शुरुआत की।

पाकिस्तान के ओपनर्स ने अपनी पारी की शुरुआत जरूर सधी हुई की थी, लेकिन भारत ने उसे 164 रन पर ही समेट दिया। अभी तक रविंद्र जाडेजा और हार्दिक पांड्या 2-2 विकेट अपने नाम कर चुके हैं। वहीं भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव के नाम भी 1-1 सफलता रही। अभी भी पाकिस्तान को जीत के लिए 11 ओवर में 137 रन की दरकार है।

47 के स्कोर पर भुवनेश्वर कुमार ने अहमद शहजाद (12) को LBW आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद पाकिस्तान के लिए उम्दा फॉर्म में चल रहे बाबर आजम (8) को उमेश यादव ने अपना शिकार बनाया। इस दौरान पाकिस्तान का स्कोर 61 ही था। इस मैच में शोएब मलिक ने तेज शुरुआत की। उन्होंने 9 बॉल में 15 रन जोड़ लिए थे कि तभी रविंद्र जाडेजा ने अपने सटीक थ्रो से उन्हें रन आउट कर उनका खेल खत्म कर दिया। 

बारिश से प्रभावित इस मैच में भारत ने संशोधित 48 ओवर में 3 विकेट खोकर 319 रन बनाए। पाकिस्तान की पारी के 5वें ओवर में बारिश ने एक बार फिर खलल डाल दी। मैच फिर से शुरू हुआ तो खेल का समय बर्बाद होने के कारण इस टारगेट को फिर संशोधित किया गया।अब पाकिस्तान को जीत के लिए पाकिस्तान के लिए 41 ओवर में 289 रन बनाने हैं।



इससे पहले पाकिस्तान के खिलाफ भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 48 ओवर में 319/3 रन बनाए। भारत के टॉप 4 बल्लेबाजों ने इस मैच में फिफ्टी जड़ी। रोहित शर्मा (91), शिखर धवन (68), विराट कोहली (81*) और युवराज सिंह ने 53 रन का अहम योगदान दिया। अंतिम ओवरों में युवराज और कोहली की जोड़ी ने तेज तर्रार रन बटोरकर भारत को 300 के पार पहुंचाने में मदद की। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 93 रन जोड़े। पाकिस्तान की ओर से केवल हसन अली और शादाब खान ही 1-1 विकेट ले सके।

भारत की पारी के दौरान बारिश ने मैच में दो बार खलल डाली। इसके चलते मैच के 4 ओवर काटकर उसे 48-48 ओवर का किया गया था। हार्दिक पांड्या ने पारी के अंतिम ओवर में इमाद वसीम को 3 छक्के जड़े और इस ओवर में भारत ने कुल 23 रन बटोर कर भारत को मजबूत स्थिति में पहुचा दिया। इससे पहले दूसरे विकेट के रूप में 37वें ओवर में जब रोहित शर्मा रन आउट हुए, तब भारत का स्कोर 192 ही था। रोहित के बाद क्रीज पर आए युवराज सिंह ने आते ही मोर्चा अपने हाथ में ले लिया। युवी ने मैदान के चारों ओर तेजी से रन बटोरने शुरू किए। 

रोहित के आउट होेने के बाद कैप्टन कोहली कुछ देर संघर्ष करते नजर आ रहे थे, लेकिन युवराज सिंह ने रनों की रफ्तार को खूबसूरती से बनाए रखा। युवराज ने मात्र 29 बॉल पर अपने वनडे करियर की 52वीं फिफ्टी जड़ दी। इस पारी में उन्होंने अभी तक 8 चौके और 1 छक्का जड़ा है। 53 के स्कोर पर युवराज हसन अली की गेंद पर LBW आउट हो गए। हालांकि इस बीच विराट कोहली भी रंग में आ चुके थे। युवराज सिंह की तेजतर्रार पारी की बदौलत भारत का टोटल 300 के पार पहुंच गया।

53 पर युवराज सिंह के आउट होने के बाद भारत ने बैटिंग पर हार्दिक पांड्या को भेजा। पांड्या ने मात्र 8 बॉल की अपनी पारी में 20 बनाए। पारी के अंतिम ओवर में हार्दिक ने इमाद वसीम को लगातार 3 छक्के जड़े। वसीम के इस ओवर में कोहली और पांड्या ने कुल 23 रन बटोरकर भारत की स्थिति को बेहद मजबूत बना दिया। विराट कोहली ने अंतिम ओवरों में आकर्षक शॉट खेले। विराट ने 68 बॉल में 81 रन बनाए और इस पारी में 6 चौके और 3 छक्के जड़े। वह अंत तक आउट नहीं हुए। विराट कोहली का यह 40वां वनडे अर्धशतक था। 



बारिश के बाद खेल शुरू हुआ ही था कि रोहित शर्मा ने रनगति को बढ़ाना का जिम्मा अपने ऊपर ले लिया। 36वें ओवर में वहाब रियाज को छक्का-चौका जड़कर वह शतक के करीब आते दिख रहे थे। इसके बाद अगले ओवर में विराट कोहली रन चुराने के लिए दौड़े ही थे कि दूसरे छोर पर रोहित गच्चा खा गए। पॉइंट पर खड़े बाबर आजम के स्टीक थ्रो ने रोहित (91) को रनआउट कर दिया। रोहित ने 119 गेंदों की इस पारी में 7 चौके और 2 छक्के जमाए। 

इससे पहले शिखर धवन (68) के आउट होने के बाद भारत की रनगति पर कुछ हद ब्रेक लगी थी। मजबूत स्थिति में दिख रही टीम इंडिया को 25वें ओवर में शिखर के रूप में शादाब खान ने पहला झटका दिया। अच्छा स्टार्ट मिलने के बाद शिखर धवन (68) के स्कोर पर डीप मिडविकेट पर छक्का जड़ने के प्रयास में आउट हुए। शिकर के आउट होने से पहले दोनों ओपनर्स ने टीम को मजबूत शुरुआत दी और दोनों ने पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़े। इस मजबूत नींव की बदौलत ही भारतीय टीम 319 रन बना पाई।

भारत की पारी के दौरान पाकिस्तान के लिहाज से मैच में ज्यादा कुछ सही नहीं रहा। मोहम्मद आमिर ने मैच का पहला ओवर भले ही मेडिन फेंका, लेकिन इसके बाद रोहित-शिखर की जोड़ी ने भारत की पारी ठोस करना शुरू कर दिया। पाकिस्तान के लिए हसन अली और शादाब खान को ही 1-1 सफलता मिली। इसके अलावा मोहम्मद आमिर और वहाब रियाज चोटिल भी हो गए। बोलिंग करते हुए जहां आमिर की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया, वहीं अपना 9वां ओवर फेंकते हुए वहाब रियाज का पैर मुड़ गया। दोनों खिलाड़ियों को मैदान से बाहर होना पड़ा।

अधिक खेल की खबरें