लखनऊ। राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) ने यूपी की योगी सरकार को इलाहाबाद में कुंभ मेले के बाद जमा हुए ठोस कचरे को 26 अप्रैल से पहले हटाने के कड़े निर्देश जारी किए हैं। इससे पहले एनजीटी के पास एक रिपोर्ट आई थी कि इलाहाबाद के कुछ सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट में दूषित जल इतना जमा हो गया है कि केवल 50 प्रतिशत ही दूषित पानी का शोधन हो पा रहा है और 50 प्रतिशत दूषित पानी ऐसे ही गंगा में छोड़ दिया जा रहा है। जिससे शहर में महामारी फैलने की संभावना बढ़ सकती है।

9 mins old