आजम के बाद बीजेपी विधायक की भैंसें तलाश रही है यूपी पुलिस
पुलिस ने भैंसें गुम हो जाने के मामले में खोजबीन शुरू कर दी है।


सीतापुर : उत्तर प्रदेश में राजनेताओं की भैंसें खो जाने का मामला नया नहीं है और न ही भैंसों को तलाशने वाले ही नए हैं। खादीवाले नेता जी की भैंसें खोई हैं तो ख़ाकी वाले तलाशने में जुट गए हैं। जी हां, इस बार एसपी नेता आजम खान की नहीं बल्कि बीजेपी विधायक की भैंसें खो गईं हैं। 

सीतापुर के हरगांव से बीजेपी विधायक सुरेश राही की 2 भैंसें कहीं गुम हो गईं। भैंसें गुम हो गईं तो चिंता का विषय बनना तय है। नैशनल क्राइम रेकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) के आंकड़ों में उत्तर प्रदेश पुलिस की अपराध पर संजीदगी भी साफ तौर पर दिखी। बहरहाल, पुलिस ने भैंसें गुम हो जाने के मामले में खोजबीन शुरू कर दी है।

क्या कहते हैं एनसीआरबी के आंकड़े? 
बताते चलें कि नैशनल रेकॉर्ड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक हत्या और महिलाओं के खिलाफ अपराध जैसे सर्वाधिक मामले वर्ष 2016 में उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को एनसीआरबी की रिपोर्ट 'क्राइम इन इंडिया-2016' जारी की जिससे यह जानकारी सामने आई है। 

सबसे बड़े राज्य में सबसे ज्यादा हत्याएं 
रिपोर्ट के मुताबिक, देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में हत्या की घटनाएं सबसे ज्यादा हुईं। यहां हत्या की 4,889 घटनाएं हुईं, जो ऐसे कुल मामलों का 16.1 फीसदी है। उत्तर प्रदेश के बाद पिछले वर्ष हत्या की सबसे ज्यादा 2,581 (8.4 फीसदी) घटनाएं बिहार में दर्ज की गईं। 

अधिक राज्य की खबरें

यूपी विधानसभा – शीतकालीन सत्र : हंगामे की भेंट चढ़ा दूसरा दिन, बोले CM योगी – 47 सदस्यों के लिए बंधक नहीं बनाया जा सकता ‘सदन’..

यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन भी आज हंगामे के भेट चढ़ गया. अज सुबह ......