बिजली दरों में हुई वृद्धि के खिलाफ सपा के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को सौपा ज्ञापन
SP Delegation


लखनऊ, समाजवादी पार्टी के एक प्रतिनिधिमण्डल ने आज राज्यपाल से मुलाक़ात की. प्रतिनिधमंडल ने राज्यपाल से बिजली की दरों में हुई बेतहासा वृद्धि के मामले में हस्तक्षेप करने मांग करते हुए उन्हें एक ज्ञापन सौंपा.  विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी के नेतृत्व में गए प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को बिजली की दरों में हुई बेतहासा  वृद्धि से आम जनता को हो रही तकलीफों के विषय में अवगत कराया साथ ही उनसे अनुरोध किया कि वो राज्य की योगी सरकार को तत्काल बिजली दरों में हुई वृद्धि के प्रस्ताव को वापस लेने का निर्देश दें.


समाजवादी पार्टी के नेताओं ने आरोप लगाया कि भाजपा की योगी सरकार बदले की भावना से सपा सरकार की जनहित की व्यस्थाओं को बदलने अथवा उसे समाप्त करने का प्रयास कर रही है. सपा नेताओं ने कहा कि अखिलेश के नेत्रत्व वाली सपा सरकार में ग्रामीण क्षेत्रों में 14 से 16 घंटे, शहरी क्षेत्रों में 22-24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जाती थी पर मौजदा योगी सरकार के कुनीतियों के चलते बिजली आपूर्ति व्यवस्था न केवल चरमरा गयी अपितु पूरी तरीके से ध्वस्त हो गयी है. पावर कारपोरेशन भ्रष्टाचार का शिकार हो गया है. पर विभाग को  भ्रष्टाचार से मुक्त करवाने की जगह पर इस सरकार ने विभाग को घाटे से उभारने के लिए बिजली की दरों में बेतहासा वृद्धि कर दी, जो कि पूरी तरह से जनविरोधी कदम है और जिसका सपा पुरजोर विरोध करती है.


सपा नेताओं ने बताया कि बिजली की ग्रामीण उपभोक्ता दरों में 63 से 150 फीसदी और किसानो के कार्यों की दरों में 50 फीसदी की वृद्धि कर दी गयी है. इतना ही नहीं पहले जहाँ ग्रामीण उपभोक्ता 50 रूपये प्रति किलोवाट फिक्सचार्ज एवं 2.20 रूपये प्रति यूनिट के हिसाब से बिल चुकाते थे वही अब उन्हें 80 रूपये प्रति किलोवाट फिक्स चार्ज व 5 रूपये 50 प्रति यूनिट की दर से बिजली की बिलों का भुगतान करना होगा जो कि भाजपा के जनविरोधी चेहरे को उजागर करता है.


समाजवादी प्रतिनिधिमंडल आप से मांग करता है कि योगी सरकार के इस जनविरोधी फैसले के विरुद्ध आप सख्त कार्यवाही करते हुए बिजली का दरों में हुई बेतहासा वृद्धि के प्रस्ताव को तत्काल वापस लेने का निर्देश राज्य सरकार को दें.


इन नेताओं से बना था सपा का प्रतिनिधमंडल :

में जिन नेताओं से आज राज्यपाल से मुलाकात की उनमे विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी, विधान परिषद् में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन, समाजवादी पार्टी के प्रदेशध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, पूर्व मंत्री अरविद सिंह गोप, व एमएलसी एसआर यादव, एमएलसी व समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव अरविन्द कुमार सिंह शामिल थे.


रसोई गैस की मूल्य वृद्धि पर भी सौपा ज्ञापन :

सपा के प्रदेशध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने आज रसोई गैस के मूल्यों में बेतहासा वृद्धि के विरुद्ध राज्यपाल को अलग से एक ज्ञापन सौंपा जिसमे उन्होंने बताया कि रसोई गैस में हुई बेतहासा मूल्य वृद्धि के चलते आम जनता को काफी तकलीफों को सामना करना पड़ा रहा है. उन्होंने कहा कि रसोई गैस की मूल्यों में वृद्धि की मार सबसे ज्यादा प्रदेश के माध्यम वर्गीय परिवारों को पद रही है अतः आप से अनुरोध है कि आप तत्काल इस मामले में हस्तक्षेप करें और रसोई गैस में हुई मूल्य वृद्धि को वापस लेने का निर्देश सरकार को दें.  


गौरतलब हो कि समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आज राज्य के सभी 75 जिला मुख्यालयों पर बिजली के मूल्यों में वृद्धि के विरुद्ध शांतिपूर्वक धरना प्रदर्शन किया है. 


अधिक राज्य की खबरें