विधायक मुख्तार अंसारी की अस्पताल से छुट्टी, भेजे गये जेल
गृह विभाग ने मुख्यमंत्री के निर्देश पर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को वापस बांदा जेल भेजने का आदेश जारी किया है.


लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मऊ से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की तबीयत में सुधार हो गई है और अब उन्हें लखनऊ के पीजीआई अस्पताल से गुरुवार को छुट्टी दे दी गई. अस्पताल से उ्हें सीधे कड़ी सुरक्षा के बीच बांदा जेल भेज दिया गया. इस बीच मुख्तार के बेटे अब्बास अंसारी ने आरोप लगाया कि दिल के दौरे से बीमार पड़े उनके पिता को मंत्रियों के दबाव में अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है. गृह विभाग ने मुख्यमंत्री के निर्देश पर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को वापस बांदा जेल भेजने का आदेश जारी किया है. गौरतबल है कि बांदा जेल में बंद मुख्तार को दिल का दौरा पड़ने पर पीजीआई में भर्ती कराया गया था.

विधानसभा चुनाव के दौरान प्रचार रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि बाहुबली का मुकाबला करने के लिए उन्होंने 'कटप्पा' को मैदान में उतारा है. उन्होंने भाजपा समर्थित उम्मीदवार महेंद्र राजभर को कटप्पा की उपाधि दी थी. चुनाव में मोदी के 'कटप्पा' को बसपा के बाहुबली ने हरा दिया था.

मुख्तार अंसारी को पिछले दिनों दिल का दौरा पड़ने पर जेल से पहले बांदा अस्पताल, फिर यहां से पीजीआई रेफर किया गया था. मंगलवार की रात मुख्तार की एंजियोग्राफी और ईसीजी की रिपोर्ट सामान्य आई थी. इसके बाद पीजीआई के डॉक्टरों ने कहा कि मुख्तार को दिल की बीमारी नहीं है.

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के अनुसार, मुख्तार को मंगलवार की शाम सीने में दर्द की शिकायत पर बांदा से लखनऊ रेफर किया गया था. यहां कार्डियोलॉजी विभाग में डॉक्टरों की टीम ने उनका परीक्षण किया. जो जांचें की गईं, उनमें किसी तरह की कोई दिक्कत नजर नहीं आई. अब प्रदेश के गृह विभाग ने मुख्तार अंसारी को वापस बांदा जेल भेजने और वहीं उनका इलाज कराने का फैसला किया है.

अधिक राज्य की खबरें

फिर अखिलेश के साथ मंच पर दिखे मुलायम सिंह यादव कहा – बीजेपी ने जनता को धोखा दिया, अखिलेश के कामों से मिलेगा ‘वोट’ ..

देश के पूर्व रक्षा मंत्री और समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने आज सपा मुखिया ......