माया की राह पर अखिलेश यादव, यूपी से बाहर सपा को मजबूत करने में जुटे!
Akhilesh Yadav


समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बसपा प्रमुख मायावती की राह पर हैं. जहां एक ओर 2019 के पहले मायावती अन्य राज्यों में अपनी जमीन मजबूत करने में जुटी हैं, वहीं, अखिलेश भी यूपी के बाहर जड़ें जमाने की कवायद शुरू कर चुके हैं.

अखिलेश यादव लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं को मजबूत करने में जुटे हैं, वहीं उनकी योजना अन्य राज्यों में भी विस्तार करने की है. यही वजह है कि अखिलेश यादव तीन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए कमर कस रहे हैं.

दरअसल, समाजवादी पार्टी की योजना देश के सभी राज्यों में अपनी जड़ें मजबूत करने की है. इसलिए अगले महीने 19 और 20 जुलाई को अखिलेश यादव भोपाल के दौरे पर जाएंगे. जहां वे पार्टी के विस्तार और आगामी चुनाव लड़ने को लेकर विचार विमर्श करेंगे.

गौरतलब है गोरखपुर, फूलपुर, कैराना और नूरपुर उपचुनाव में मिली जीत के बाद अखिलेश यादव उत्साहित हैं. उनका मानना है कि बीजेपी को रोकने के लिए क्षेत्रीय दलों को राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार करना जरूरी है. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी कहते हैं कि अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश में पार्टी को बूथ स्तर पर मजबूत करने में जुटे हैं. साथ ही, वे देश के अन्य राज्यों में भी पार्टी के विस्तार पर विशेष ध्यान दे रहे हैं.

चौधरी ने कहा कि अब जनता समाजवादी पार्टी को ही बीजेपी का विकल्प मान रही है. जनता चाहती है कि सपा का राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार हो. यही वजह है कि बीजेपी भी अखिलेश यादव को चुनौती मान रही है. बीजेपी और आरएसएस अखिलेश यादव को बदनाम करने का षड्यंत्र रच रहे हैं.

मध्यप्रदेश में 230 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी
अखिलेश के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी गुजरात और कर्नाटक में चुनाव लड़ चुकी है. हालांकि, पार्टी को कोई विशेष सफलता हाथ नहीं लगी, लेकिन एक बार फिर अखिलेश यादव मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं. मध्यप्रदेश में पार्टी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का मूड बना रही है.

पार्टी नेताओं का कहना है कि अखिलेश यादव की बेदाग छवि उन्हें किसानों, युवाओं और गरीबों के बीच लोकप्रिय बना रही है. जिसकी वजह से लोग समाजवादी पार्टी से जुड़ रहे हैं. उनका कहना है कि महाराष्ट्र, राजस्थान और गुजरात में भी पार्टी के पार्टी लोगों का रुझान बढ़ा है.

समाजवादी पार्टी के एमएलसी और प्रवक्ता सुनील सिंह सजन ने कहा कि पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार के लिए जुटी है. तीन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में पार्टी मजबूती के साथ चुनाव लड़ने की तैयारी में है. मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में पार्टी बूथ स्तर से लेकर विधानसभा स्तर पर संगठन को तैयार करने में जुटी है. गठबंधन हो या न हो पार्टी ज्यादा से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

अधिक राज्य की खबरें

स्वतंत्रता दिवस पर योगी सरकार ने किया मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पुलिस पदक का ऐलान..

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में पहली बार मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा ......