भारत बंद: यूपी में प्रशासन सतर्क, सार्वजानिक स्थलों की बढ़ाई गई सुरक्षा
File Photo


लखनऊ, दलित संगठनों और वाम दलों के आह्वान पर गुरुवार को बुलाए गए भारत बंद के मद्देनजर उत्तर प्रदेश शासन सतर्क है. 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान जमकर हुई हिंसा, आगजनी और तोड़फोड़ से सबक लेते हुए एहतियात के तौर पर सभी जिलों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को सख्त निर्देश दिया गया है कि सार्वजनिक स्थलों पर फोर्स तैनात की जाए. किसी भी सूरत में हिंसा, तोड़फोड़ और आगजनी की घटना नहीं होनी चाहिए.

गृह विभाग की तरफ से जारी निर्देश में कहा गया है कि जिलों में सभी मार्गों पर नजर रखने व सार्वजनिक स्थानों पर भारी संख्या में फोर्स लगाई जाए. किसी भी कीमत पर बवाल न होने पाए. इससे पहले बुधवार को डीजीपी मुख्यालय की तरफ से प्रदेश के सभी जिलों के कप्तानों के लिए सतर्कता से जुड़े निर्देश जारी कर दिए गए थे. डीजीपी मुख्यालय की तरफ से एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने प्रदेश के सभी जिलों की पुलिस कप्तानों व अफसरों को निर्देश जारी किए हैं.

सभी एडीजी, आईजी, डीआईजी, एसएसपी से कहा गया है कि संवेदनशील जगहों पर विशेष निगरानी की जाए.  इनमें हवाई अड्डों, प्रमुख धार्मिक स्थलों से लेकर सभी सार्वजनिक स्थानों की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने के निर्देश जारी किए गए हैं. इसके अलावा स्टेट इंटेलिजेंस और अन्य एजेंसियों को भी सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं.

भले ही सरकार ने एससी-एसटी अत्याचार निवारण संशोधन अधिनियम बिल लोकसभा में पेश कर दिया हो, लेकिन इसके बावजूद कई दलित संगठनों ने आज भारत बंद का ऐलान किया है. लेकिन अॉल इंडिया अंबेडकर महासभा के साथ ही कुछ अन्य दलों ने खुद को इस बंद से अलग कर लिया है. बावजूद इसके जहां-जहां बंद से सरगर्मी के आसार हैं पुलिस-प्रशासन मुस्तैदी का दावा कर रहा है.

भारत बंद आह्वान को देखते हुए प्रशासन की ओर से रेलवे, हवाई अड्डों, प्रमुख धार्मिक स्थलों पर कड़े सुरक्षा के इंतजाम किये गये हैं। बंद को देखते हुए मध्य प्रदेश पुलिस भी हाई अलर्ट पर है. कई जिलों में प्रशासन ने धारा-144 लगा दी है.  बता दें इसी साल 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान प्रदेश में कई जगह हिंसा और आगजनी की घटनाएं हुई थीं, जिसके बाद यूपी पुलिस की काफी किरकिरी हुई थी. इस बार यूपी पुलिस पहले से ही सतर्कता बरत रही है.

अधिक राज्य की खबरें

विजयादशमी के दिन क्यों खास है गोरक्षपीठाधीश्वर के रूप में CM योगी की विजय शोभा यात्रा..

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दशहरे के दिन गोरक्षपीठाधीश्वर के रूप में अंधियारीबाग रामलीला मैदान में पहुंचकर भगवान राम ......

विजयवर्गीय ने राहुल की तुलना रावण से की, कांग्रेस ने कहा- अच्छे अस्पताल में कराएं इलाज..

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी ने बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष ......