'Gay रिलेशनशिप' में था आप कार्यकर्ता, शादी से 'इनकार' और पैसे के लिए हुई हत्या
File Photo


गाजियाबाद के साहिबाबाद इलाके में 5 अक्टूबर को आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता नवीन दास का शव उन्हीं के ब्रिजा गाड़ी में बरामद हुआ था. इस मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. नवीन के दोस्त तैयब, तालिब और समर ने ही उसके हलवे में जहर मिलाकर खिला दिया था. उसके बाद उसे साहिबाबाद इलाके में गाड़ी समेत आग लगा दी थी.

तीनों ने नवीन के अकाउंट में से 5 लाख रुपये भी ट्रांसफर किए थे. यही नहीं नवीन के पास मौजूद लाखों रुपए की नगदी भी लूट ली गई थी. पुलिस के मुताबिक नवीन दास और उसका दोस्त तैयब "गे रिलेशनशिप" में थे. दोनों ही इस समलैंगिक रिश्ते को काफी लंबे समय से निभा रहे थे. इस दौरान दिल्ली के कनॉट प्लेस के नामी होटलों में गे पार्टी भी ऑर्गेनाइज करते थे. इन पार्टीज में दूसरे समलैंगिक लोगों को आकर्षित किया जाता था.

हत्याकांड में पकड़ा गया तैयब मुख्य आरोपी है. जबकि उसका भाई तालिब उसका साथी है. तीसरा समर भी नवीन के साथ समलैंगिक रिश्ते में था. बताया जा रहा है कि नवीन के मोबाइल में इनके समलैंगिक रिश्तों की कुछ आपत्तिजनक वीडियो भी थे. जिसको लेकर ब्लैकमेलिंग का खेल भी चल रहा था. तैयब चाहता था कि नवीन उसके साथ शादी करके बतौर कपल रहना शुरू कर दे. लेकिन नवीन को यह बात मंजूर नहीं थी. नवीन का इवेंट मैनेजमेंट का भी काम था और तैयब को लगता था कि नवीन के पास काफी पैसा है.

नवीन अपने करियर को लेकर काफी गंभीर था. लिहाजा उसने तैयब से दूरी बनानी शुरू कर दी. तैयब को नवीन की अनदेखी नागवार गुजरी. लिहाजा 4 अक्टूबर की रात को पूरा प्लान बनाया गया था. उसे अमलीजामा पहना दिया गया. तीनों ने नवीन को लोनी इलाके में बुलाया, जहां पर उसे हलवा खिलाया गया. हलवे में जहरीला पदार्थ मिला था. जिसे खाने के बाद नवीन बेहोश हो गया. उसके बाद तीनों ने उसे साहिबाबाद इलाके में उसी के गाड़ी में रखकर आग लगा दी. कोशिश थी हत्या को एक्सीडेंट दिखाया जाए. इसके बाद तीनों ने उसके अकाउंट से पैसे भी निकाले

पुलिस के गिरफ्त में आए तैयब ने बताया कि उसकी दोस्ती नवीन से एक साल पहले कनाट पैलेस में एक समलैंगिक पार्टी के दौरान हुई थी. उसके बाद से ही दोनों लिव-इन में रह रहे थे. कुछ दिनों से नवीन ने उससे किनारा कर लिया था और साथ ही उसके समलैंगिक संबंधों का खुलासा करने की बात कर रहा था.

एसएसपी वैभव कृष्ण 4/5 अक्टूबर की रात दिल्ली के नवीन दास की जली हुई बॉडी मिली थी. इस हत्याकाण्ड के पीछे दो वजहें निकलकर सामने आई है. पहला यह कि मृतक और मुख्य आरोपी के बीच समलैंगिक संबंध थे. तैयाब मृतक को अपने साथ रहने के लिए फोर्स कर रहा था. दूसरा मोटिव यह था कि मृतक नवीन आर्थिक रूप से मजबूत था. वह चाहता था कि नवीन के सहारे उसकी भी आर्थिक स्थिति सुधर जाए. इसलिए तैयब उससे अपने अकाउंट में करीब 7.85 लाख रुपए भी ट्रांसफर करवाए थे.  जिसमें से पुलिस ने करीब चार लाख रिकवर कर लिया है. एसएसपी ने बताया कि मुख्य आरोपी ने मृतक नवीन को फोन कर लोनी बुलाया और उसे हलवे में कुछ जहरीला पदार्थ खिलाया. जिसके बाद उसे नशा हो गया. आरोपियों ने उसके बाद पेट्रोल डालकर गाड़ी में आग लगा दी. एसएसपी ने बताया कि यह भी प्रकाश में आया है कि मृतक के पास मुख्य आरोपी का एक वीडियो भी था. दबाव बनाने पर वह उसके समलैंगिक रिश्तों की पोल खोलने की बात करता था.

अधिक राज्य की खबरें