डिंपल ने मायावती के छुए पैर, बीएसपी सुप्रीमो बोली,‘परिवार की बहू’
बीएसपी अध्यक्ष ने कांग्रेस की भी तीखी आलोचना की और कहा कि आज़ादी के बाद लंबे समय तक पार्टी सत्ता में रही, लेकिन उसने मंडल कमीशन की रिपोर्ट लागू नहीं की.


कन्नौज/शाहजहांपुर:  लोकसभा चुनाव 2019 बीएसपी सुप्रीमो ने कन्नौज में सपा प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी और कन्नौज से मौजूदा लोकसभा सांसद डिम्पल यादव के चुनाव प्रचार के लिए आयोजित जनसभा में मायावती ने यह टिप्पणी की. बीएसपी सुप्रीमो ने डिंपल को अपने ‘‘परिवार की बहू’’ बताया और अपने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे एकजुट होकर भारी बहुमत से डिंपल यादव को विजयी बनाएं. साथ ही उन्होंने अखिलेश की भी तारीफ की और कहा कि गठबंधन से सामाजिक परिवर्तन को गति मिलेगी. बीजेपी का कोई हथकंडा काम नहीं आएगा. 

नमो-नमो जपने वालों का सफाया हो जाएगा: मायावती 
मायावती ने कहा इस बार के चुनाव में 'नमो नमो' जपने वालों का सफाया हो जाएगा. मायावती ने कहा कि इस चुनाव में बीजेपी सत्ता से बाहर होगी और ‘‘नाटकबाज़ी’’ एवं ‘‘जुमलेबाजी’’ काम नहीं आएगी. बीएसपी अध्यक्ष ने कांग्रेस की भी तीखी आलोचना की और कहा कि आज़ादी के बाद लंबे समय तक पार्टी सत्ता में रही, लेकिन उसने मंडल कमीशन की रिपोर्ट लागू नहीं की. मंडल कमीशन पूर्व प्रधानमंत्री वी पी सिंह ने लागू किया था. उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस ने आंबेडकर का भी अपमान किया.

मायावती ने कहा कि बीजेपी ने अच्छे दिन का सपना दिखाया, लेकिन सिर्फ पूंजीपतियों को मालामाल किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तरह बीजेपी जातिवादी और साम्प्रदायिक पार्टी है. उन्होंने कहा कि जीएसटी को जल्दबाज़ी में लागू किया गया जिससे अर्थव्यवस्था पर बुरा प्रभाव पड़ा. उन्होंने कहा कि सीबीआई और ईडी का दुरुपयोग किया गया. देश की सीमाएं सुरक्षित नहीं है.

मायावती ने कहा कि ‘सबका साथ सबका विकास’ एक जुमला था. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सिर्फ खोखले वादे किए. उन्होंने कन्नौज के लोगों से अपने विशेष जुड़ाव की चर्चा करते हुए कहा कि कन्नौज को जिला हमने बनाया व अन्य विकास कार्य भी कराए.

मोदी को बताया पूंजीपतियों का चौकीदार
बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी ने गरीबों की नहीं बल्कि पूंजीपतियों की चौकीदारी की है.  मायावती ने शाहजहांपुर की एक चुनावी जनसभा में कहा, 'नाटकबाजी और जुमलेबाजी से सरकार नहीं बनती. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तो पूंजीपतियों की चौकीदारी की है, ना कि गरीबों की.' उन्होंने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा कि लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी सत्ता में रही और उसने देश में गरीबी एवं बेरोजगारी बढ़ाने का काम किया. गलत नीतियों के चलते ही कांग्रेस पार्टी को सत्ता से हाथ धोना पड़ा.

मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने देश पर लंबे समय तक शासन किया परंतु गरीबों को उनका हक नहीं दिया, इसी कारण बहुजन समाज पार्टी का गठन करना पड़ा था. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी सरकार की नोटबंदी व जीएसटी से देश बर्बाद हुआ है तथा इससे भारत की अर्थव्यवस्था पर भी काफी फर्क पड़ा है, परंतु अब जनता बीजेपी तथा कांग्रेस की जुमलेबाजी समझ चुकी है. उन्होंने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार ने अभी तक देश की सीमाओं को सुरक्षित करने का कार्य नहीं किया, जिसके चलते आज देश में हमले हो रहे हैं.

मायावती ने कहा कि बीजेपी देश को अच्छे दिनों का सपना दिखा कर गुमराह कर रही है. गरीबों के साथ कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही मजाक कर रही हैं. वे जनता को प्रलोभन दे रहे हैं और फर्जी ओपिनियन पोल से वाहवाही लूट रहे हैं.

अधिक राज्य की खबरें

पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा : गणित व फिजिक्स के प्रश्नों ने अभ्यर्थियों को उलझाया..

प्रदेश के राजकीय, सहायता प्राप्त व प्राइवेट पॉलिटेक्निक में दाखिले के लिए छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में हिस्सा ......