प्रियंका गांधी के रोड शो में  हुजूम
प्रियंका गांधी के रोड शो


वाराणसी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का रोड शो बुधवार की शाम शुरू हुआ। वाराणसी से कांग्रेस प्रत्घ्याशी अजय राय के समर्थन में इस मेगा शो को ऐतिहासिक बनाने के लिए कांग्रेस संगठन ने दिन-रात एक कर दिया है। शाम साढे छह बजे से लंका स्थित सिंह द्वार से रोड शो शुरु हुआ जो रविदास गेट, अस्सी, भदैनी, सोनारपुरा होते हुए गोदौलिया तक पहुंचा। इसमें पांच साल का जनता का दर्द बताती झांकियां भी शामिल की जा रही हैं। रोड शो के समापन के बाद प्रियंका गांधी श्रीकाशी विश्वनाथ व बाबा काल भैरव मंदिर में दर्शन-पूजन किया।  
ज्ञात हो कि शाम 6.15 बजे प्रियंका गांधी लंका गेट पर पहुंचीं और चैराहे पर स्थित पं. महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। माल्घ्यार्पण के बाद रोड शो शुरु हो गया जिसमें कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का हुजूम उमड़ पड़ा। रास्ते में कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद, प्रियंका गांधी जिंदाबाद के साथ विरोधियों पर तंज कसते नारों से सड़क गूंज उड़ी तो कांग्रेसी भी उत्घ्साह के साथ लगभग पांच किलोमीटर के इस रोड शो में शामिल हो गए। वहीं रास्घ्ते में एक लड़का बेहोश होकर सड़क पर गिर पड़ा तो रोड शो में शामिल लोग उसे तुरंत हॉस्पिटल ले गए। इस दौरान प्रियंका गांधी भी वाहन से उतर कर युवक को देखने गईं।
रोड शो से पूर्व शाम होते ही सोनारपुरा पर कांग्रेस पदाधिकारियों के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं का हुजूम लंका क्षेत्र में उमड़ पड़ा। वहीं मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र शिवाला में मुस्लिमों की भीड़ भी इस रोड शो का स्घ्वागत करेगी। पूर्व राष्ट्रीय महासचिव मोहन प्रकाश के भदैनी स्थित आवास के सामने पुराने कांग्रेसियों की जुटान प्रियंका गांधी के स्वागत के लिए हो चुकी है। वहीं रास्घ्ते में दंडी संन्यासी भी प्रियंका को आशीर्वाद देंगे। 
प्रियंका गांधी के रोड शो से पहले लंका गेट के पास भाजपा कार्यकर्ता की कांग्रेसियों ने पिटाई कर दी। पूरा मामला रोड शो के शुरुआत की जगह लंका चैराहे की है। यहां पर कांग्रेसी कार्यकर्ता  ‘‘चैकीदार चोर है ’’ के नारे लगा रहे थे। नारे पर भाजपा कार्यकर्ता चंद्रशेखर ने गुस्घ्से में प्रियंका और राबर्ट वाड्रा के खिलाफ अपशब्द कहा तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उसे जमकर पीट दिया। विवाद बढ़ता देखकर लंका पुलिस उसे थाने ले गई। पेशे से अधिवक्घ्ता भाजपा कार्यकर्ता संग मारपीट किए जाने से कुछ देर तक कार्यक्रम स्थल पर विवाद की स्थिति बनी रही। वहीं सुरक्षा कारणों से अस्सी पर नमो अगेन की टी शर्ट पहने लगभग 20 लोगों से सीओ भेलूपुर अनिल कुमार ने टी शर्ट उतरवा लिया।
जिस रूट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोड शो हुआ था उसी रूट पर प्रियंका के रोड शो का रास्ता भी चुना गया था। कांग्रेस संगठन इसे पीएम मोदी को चुनौती पेश करने के तौर पर देख रहा है।  संगठन के पदाधिकारी दावा कर रहे हैं कि मोदी के रोड शो से किसी भी स्तर पर प्रियंका का रोड शो कमतर नहीं का दावा किया। रोड शो की थीम गंगा-जमुनी तहजीब पर आधारित रही। रास्ते में झांकियां  जो किसी नारे विशेष पर आधारित रहे मसल , मैं दुखियारी-नोटबंदी की मारी, बंद करो धर्म का व्यापार-काशी नहीं सहेगा अत्याचार, मैं कर्जदार किसान, मेरा व्यापार-नहीं सहेगा जीएसटी की मार आदि की झांकियां प्रस्तुत की गई । रोड शो के दौरान प्रियंका गांधी ने लंका पर पं. महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्घ्यार्पण कीं वहीं मैदागिन पर भी प्रियंका गांधी अपने पिता स्व. राजीव गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया ।  वहीं पूर्व विधायक व कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय का दावा है कि अन्य दलों की तरह प्रियंका गांधी के रोड शो में कोई बाहरी था। इसमें सिर्फ बनारस के लोग ही शामिल रहेंगे। इसके लिए गांव-गांव व शहर के हर मुहल्लों में कार्यकर्ता पहुंचे । प्रियंका का रोड शो लंका,अस्सी ,शिवाला, भदैनी, हरिश्चंद,सोनारपुरा, पांडेय हवेली, मदनपुरा, जंगमबाड़ी,गोदौलिया होते हुए प्रियंका का रोड़ शो गुजरा। 


अधिक राज्य की खबरें