सात समंदर पार यूरोप देश से चलकर मऊ पहुंची भारत की बेटी ने दिया वोट
प्रिया का कहना है कि जिन हाथों ने भारत को मतबूत किया, उन हाथों को हमें और भी मजबूत करना चाहिए।


मऊ, (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का युवाओं के बीच कितना क्रेज हैं, इसका अंदाजा सिर्फ इस बात से ही लगाया जा सकता है कि सात समंदर पार से मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए यूरोप देश से चलकर वोट करने लिए मऊ पहुंची और निजामुद्दीनपुरा के सोनी धाना इंटर कालेज के मतदान स्थल पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

शनिवार को प्रिया सिंह वाराणसी के बाबतपुर एयरपोर्ट पर उतरने के बाद अपने भाई उज्जवल सिंह के साथ कार से मऊ आई। प्रिया स्वीडन में अपने पति विजय विक्रम सिंह के साथ रहती है। जो वहां साफ्टेवेयर इंजीनियर है। 

 मतदान के बाद प्रिया सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने मां भारती को विश्वगुरु बनाने का जो सपना देखा है, उसको साकार करने के लिए वो स्वीडन से भारत आई है। आत्मविश्वास से ओत प्रोत प्रिया का कहना है, यह मेरे लिए गौरव की बात है कि देश ही नहीं विश्व के सबसे सशक्त राजनेता को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए घोसी लोकसभा से भाजपा के जनप्रतिनिधि को वोट दिया है। 

 उल्लेखनीय है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष शक्ति सिंह प्रिया के भाई हैं। प्रिया का कहना है कि जिन हाथों ने भारत को मतबूत किया, उन हाथों को हमें और भी मजबूत करना चाहिए। मोदी जी के कारण भारत और भारतवासियों को पूरे विश्व में सम्मान मिला है। इस प्रतिष्ठा में बढ़ोत्तरी हो। इसके लिए हर किसी को बढ़ चढ़ कर योगदान करना चाहिए। 

अधिक राज्य की खबरें