टैग:5yearsmissing#babychild#chattisgadh
22 घंटे से लापता 5 साल की मासूम
छत्तीसगढ़ के गरियाबंद से एक किलोमीटर की दूरी पर दर्रा पारा की रहने वाली 5 साल की बच्ची पिछले 24 घंटे से लापता है


गरियाबंद10जून,(हि.स.)। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद से एक किलोमीटर की दूरी पर दर्रा पारा की रहने वाली 5 साल की बच्ची पिछले 24 घंटे से लापता है । बच्ची रविवार को अपनी सहेलियों के साथ खेलने गई थी, जिसके बाद से अब तक उसका कोई पता नहीं है ।   काफी खोजबीन के बाद भी मासूम का पता नहीं चला तो परिजनों ने गुमशुदगी की शिकायत थाने में कराई | मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस पुलिस ने सर्चलाइट के माध्यम से विभिन्न स्थान व उसके घर के पीछे स्थित जंगलों की सघन छानबीन शुरू कर दी |  लेकिन फिलहाल अब तक पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है ।


मामला जिला मुख्यालय गरियाबन्द से महज एक किमी दूरी पर बसे दर्रा पारा गांव का है । लखन ध्रुव की पांच साल की बेटी धनमती रविवार को दोपहर करीबन 12 बजे घर से खेलने निकली थी ।अंतिम बार करीबन 2 बजे उसे गांव में ही उसकी सहेली के साथ देखा गया था । वह सहेली को घर जाना बताई थी, पर घर नहीं पहुंची । शाम 7 बजे के बाद परिजनों ने इसकी सूचना सिटी कोतवाली में दिया । लेकिन मासूम बेटी के लापता होने की सूचना के बाद पूरा पुलिस महकमा सकते में आ गया है ।

 बता दें कि इसी गांव में 23 अक्टूबर 2018 को एक मासूम के साथ रेप कर शव दफना दिया गया था ।मामले के आरोपी सलाखों के पीछे है ।लापता मासूम सुरक्षित लौट जाए इसके लिये लगातार लोग कामना कर रहे हैं । रात एसपी एमआर अहिरे की मौजूदगी में गांव के आसपास पुलिस सर्च अभियान चलाई थी ।कोई सुराग नहीं लगने के बाद एएसपी सुखनंदन राठौर के अगुवाई में सुबह से पुलिस तलाशी अभियान चला रही है अफसर लगातार लोगों से सम्पर्क कर लापता बेटी के गायब होने की पहेली को सुलझाने में लगे हुए हैं  इसके लिए डॉग स्क्वॉड की भी मदद ली जा रही है ।मामले की जानकारी के लिए गांव पहुंचे गरियाबंद एसपी और एएसपी ने जांच की जानकारी ली । आईजी आनंद छाबड़ा  22 घंटे से लापता 5 साल की मासूम के घर पहुंचे और  एसपी को दिए कई निर्देश दिए अचानकमार अभयारण्य से  स्नेफल डॉगऔर रायपुर क्राइम स्क्वाड की टीम को भी बुलवाया गया है दर्रापारा के सभी घरों की तलाशी लेने के निर्देश बीती रात से है एसपी, एडिशनल एसपी तथा पूरा पुलिस महकमा दर्रा पारा में बच्ची को ढूंढने जुटा हुआ है 

अधिक राज्य की खबरें