सीबीआई की छापेमारी में आईएएस अभय सिंह के घर से मिला 49 लाख
अवैध खनन के मामले में चल रही सीबीआई की कार्रवाई में आईएएस अधिकारी अभय सिंह के घर से करीब 49 लाख रुपये कैश बरामद हो चुके हैं।


लखनऊ : अवैध खनन के मामले में चल रही सीबीआई की कार्रवाई में आईएएस अधिकारी अभय सिंह के घर से करीब 49 लाख रुपये कैश बरामद हो चुके हैं। हालांकि कार्रवाई अभी भी जारी है।

सूत्रों के  मुताबिक, दस लाख रुपये देवीशरण उपाध्याय के यहां से मिले है। इस समय वह आजमगढ़ में सीडीओ के पद पर तैनात हैं। वह तत्कालीन देवरिया के एडीएम पद पर भी रहे थे। वहीं, आईएएस अधिकारी विवेक के लखनऊ स्थित अंसल विला और नोएडा के एक फ्लैट में अहम दस्तावेज मिले हैं। वह अभी निदेशक, मिशन स्किल डेवलपमेंट है। बांकि जिन लोगों के नाम एफआईआर में दर्ज है, उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। वहीं गायत्री प्रजापति के यहां कोई सर्च अभियान नहीं चला है।

उल्लेखनीय है कि अवैध खनन को लेकर दोनों केस 29 जून को दर्ज हुए थे। इसमें रजिस्टर करने से पहले इलाहाबाद हाइकोर्ट के आदेश पर प्रारम्भिक जांच दर्ज की गई थी। इसके आधार पहले मामले में आरोप था कि तत्कालीन डीएम फतेहपुर अभय सिंह और खनन मंत्री गायत्री प्रजापति ने गलत तरीके से तीन माइनिंग लीज शिव सिंह और सुखराज सिंह के नाम पर रिन्यू कर दी थी। आरोप है कि अभय सिंह ने ये लीज देते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश का उल्लंघन किया था और ई-टेंडर नहीं दिए थे।

दूसरे मामले में डीएम देवरिया विवेक और दूसरे आरोपितों ने दो सैंड माइनिंग लीज फूल बदन निषाद और शरदा यादव के नाम पर गलत तरीके से लीज जारी की थी। ये दोनों देवरिया के रहने वाले थे। पंकज सिंह उस वक़्त माइनिंग इंस्पेक्टर थे, जिसने माइनर मिनिरल के ट्रांसपोर्टेशन के गलत फॉर्म्स जारी किए थे। माइनिंग केस अभी कुल मिलाकर पांच एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं। कुल सात प्रारम्भिक जांच दर्ज हुई थीं।

अधिक राज्य की खबरें