टैग:Uttarakhand#,Hemkund#,Yatra halted
उत्तराखण्ड : अगले 24 घंटे में भारी बारिश का अलर्ट, बदरीनाथ और हेमकुंड यात्रा रुकी
उत्तराखण्ड में अगले 24 घंटे में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है


देहरादून: उत्तराखण्ड में अगले 24 घंटे में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। रविवार से हो रही तेज बारिश का दौर सोमवार को भी जारी है, जिससे प्रदेश के नदी नाले उफान पर हैं। चमोली में अतिवृष्टि से जान-माल का काफी नुकसान हुआ है। वहीं बारिश और भूस्खलन के कारण बदरीनाथ और हेमकुंड यात्रा रोक दी गई है। तीर्थयात्रा पर जा रहे यात्री जगह-जगह हाईवे खुलने का इंतजार कर रहे हैं। मौसम विभाग की ओर से जारी अलर्ट के बाद प्रशसनिक स्तर पर पूरी एहतियात बतरी जा रही है।

उत्तराखंड में चमोली में रविवार रात से सोमवार सुबह तक जारी बारिश से हाईवे पर कई जगह मलबा आ गया है। इस कारण बदरीनाथ और हेमकुंड यात्रा रोक दी गई है। तीर्थयात्रा पर जा रहे यात्री जगह-जगह हाईवे खुलने का इंतजार कर रहे हैं। हाईवे बाजपुर, कौड़िया, लामबगड़ और कंचनगंगा में अवरुद्ध है। जिले में भूस्खलन के कारण संपर्क मोटर मार्ग बंद हो गए हैं। ऋषिकेश-गंगोत्री हाईवे पर यातायात सामान्य रूप से चल रहा है। वहीं केदारनाथ यात्रा भी जारी है।

चमोली में तीन के शव मिले
चमोली जिले के घाट क्षेत्र में हुई अतिवृष्टि से क्षेत्र के तीन अलग-अलग स्थानों में जनहानि से बांजबगड़ में दबी मां-बेटी का शव बरामद कर लिया गया है। वहीं आली गांव में दबी युवती का शव भी बरामद किया गया है। इधर लांखी गांव में मकान के ध्वस्त होने के बाद तीन लोगों के दबे होने की आशंका क्त की जा रही है। 
आपदा परिचालन केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार घाट क्षेत्र के बांजबगड में मकान के ध्वस्त होने के बाद उसमें मां और बेटी दब गये थे, जिनका शव बरामद किया गया है। इनकी पहचान रूपा देवी पत्नी अब्बल सिंह और उनकी नौ माह की पुत्री चंदा के रूप में हुई। क्षेत्र के आली गांव में मकान टूटने से 21 वर्षीय नौरती पुत्री नौनू की मौत हो गई। साथ ही चार दर्जन के करीब पशु का भी नुकसान हआ है। वहीं इस घटना में मकान भी क्षतिग्रस्त हुए हैं।

अधिक राज्य की खबरें