बोधगया ब्लास्ट मामले में एक और आतंकी चेन्नई से गिरफ्तार
बौद्ध धर्म के विश्वविख्यात मंदिर बोधगया


कोलकाता: बौद्ध धर्म के विश्वविख्यात मंदिर बोधगया में इसी साल जनवरी महीने में हुए इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) ब्लास्ट मामले में कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने एक और आतंकी को धर दबोचा है। उसे मंगलवार सुबह चेन्नई के थोरिया पक्कम क्षेत्र अंतर्गत नीलंगराई थाना इलाके के 1/108 ए ए नगर सेनाल पुरम से गिरफ्तार किया गया है।


एसटीएफ के उपायुक्त शुभंकर सिन्हा सरकार ने मंगलवार दोपहर बताया कि पकड़े गए आतंकी का नाम असादुल्लाह शेख उर्फ राजा (35) है। वह मूल रूप से पश्चिम बंगाल के बर्दवान जिला अंतर्गत भतार थाना क्षेत्र के नित्यानंदपुर दंगापाड़ा का निवासी है। असादुल्लाह के बारे में पुख्ता सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम ने योजनाबद्ध तरीके से छापेमारी कर उसे धर दबोचा है। प्राथमिक पूछताछ में पता चला है कि इसी साल 19 जनवरी को हुए बोधगया ब्लास्ट मामले में वह मुख्य साजिशकर्ता रहा है। इस मामले में दो सितम्बर को दो और आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था। उन्हीं लोगों से पूछताछ के बाद उसके बारे में जानकारी मिली थी जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया है। वह भी बांग्लादेश के प्रतिबंधित आतंकी संगठन जमात उल मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) का सक्रिय सदस्य है।

आतंकियों की भर्ती, टेरर फंडिंग और अन्य आवश्यक चीजें व्यवस्थित करने में उसकी भूमिका बड़ी रही है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को भी उसकी तलाश थी। चेन्नई में रहते हुए भी वह कई आतंकियों के संपर्क में था। उससे पूछताछ कर उसके सभी साथियों के बारे में पता लगाने की कोशिश की जा रही है। आसदुल्लाह के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 120 बी, 121, 121ए, 124 व 125 के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू की गई है।

अधिक राज्य की खबरें