मेरठ: पुलिस के साथ मुठभेड़ में दो बदमाश ढेर
मारे गए बदमाशों पर 50-50 हजार रुपए का ईनाम घोषित था।


मेरठ : उत्तर प्रदेश में योगी सरकार अपराधियों के प्रति पूरी तरह से सख्त दिखाई दे रही है। मामला मेरठ का है जहां बुधवार देर रात दिल्ली-रूड़की रोड पर पुलिस के साथ मुठभेड़ में दो बदमाश ढेर हो गए। चेकिंग के दौरान बदमाशों ने सिपाही को गोली मारकर भागने ​लगे​ जिससे पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए दोनों बदमाशों को मार गिराया। अपराधियों के खिलाफ मेरठ पुलिस का अभियान जारी है। मारे गए बदमाशों पर 50-50 हजार रुपए का ईनाम घोषित था। कंकरखेड़ा थाना पुलिस को बुधवार की देर रात बदमाशों के हाईवे से गुजरने की सूचना मिली। 

इस पर इंस्पेक्टर बिजेंद्र पाल राणा ने पुलिस फोर्स के हाईवे चैकी पर जिटौली फ्लाईओवर के पास चेकिंग शुरू कर दी। एक बाइक पर दो लोगों को आता देखकर पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया, लेकिन बदमाशों ने रूकने की बजाय पुलिस पर फायर कर दिया। बदमाशों की गोली से सिपाही सुधीर घायल हो गया और बदमाश भाग निकले। वायरलेस पर सूचना फ्लैश होते ही कई थानों की पुलिस बदमाशों की तलाश में जुट गई। जंगेठी रोड पर पुलिस ने बदमाशों को घेर लिया। पुलिस को देखकर बदमाश खेत में घुस गए। पुलिस की घेराबंदी देखकर बदमाशों ने फायरिंग कर दी। यहां भी बदमाशों की गोली से सिपाही घायल हो गया। पुलिस की फायरिंग में दोनों बदमाश घायल हो गए। अस्पताल पहुंचने पर डाॅक्टरों ने दोनों बदमाशों को मृत घोषित कर दिया। 

घायल बदमाशों की पहचान शहजाद पुत्र सीधा निवासी शाहबाड़ा बुढ़ाना कस्बा मुजफ्फरनगर और पंकज उर्फ बंटी पुत्र चरण सिंह बुढ़ाना मुजफ्फरनगर के रूप में हुई। उन पर 50-50 हजार रुपए का ईनाम घोषित था। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि दोनों बदमाशों का आपराधिक रिकाॅर्ड खंगाला जा रहा है। दोनों घायल सिपाहियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एक सिपाही के पेट में गोली लगने के कारण हालत गंभीर है और दूसरे सिपाही को हाथ में गोली लगी है। अपराधियों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा।

अधिक राज्य की खबरें