एफएलओ ने मुकेश मेश्राम और मंडलाआयुक्त के साथ फेस टू फेस कार्यक्रम का किया आयोजन
उन्होंने राज्य के मुद्दों पर वर्तमान समस्यों के बारे में भी प्रकाश डाला।


लखनऊ : फिक्की लेडीज ऑर्गनाइजेशन द्वारा लखनऊ चैप्टर ने कमिश्नर मुकेश मेश्राम के साथ फेस टू फेस कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसमें एफएलओ को सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमो को जोड़ने के लिए विशेष रूप से योजना बनाने वाले सदस्यों को संबोधित किया गया।

आपको बता  दें की लखनऊ मंडल आयुक्त मुकेश मेश्राम ने बताया कि फिक्की फ्लो ने सार्वजनिक पार्कों और सार्वजनिक स्थानों को सुंदर बनाने के लिए चित्र कला और कचरे के उपयोग से बैठने के लिए स्थान का निर्माण करने की  एक बहुत ही रचनात्मक योजना की रूपरेखा तैयार की है। उन्होंने घोषणा की कि चूंकि बहुत से संगठन इस कार्य के लिए  पहल करेंगे। जिसके उन्हें एक म्यूरल शोकेसिंग वुमेन पावर के लिए एफएलओ को एक स्थान सौंपने में खुशी होगी। उन्होंने राज्य के मुद्दों पर वर्तमान समस्यों के बारे में भी प्रकाश डाला। उन्हें खुशी है कि एफएलओ घरेलू कचरे को कम करने के लिए काम करेगा क्योंकि राज्य सरकार कूड़ा उठाने और कचरे के निस्तारण, स्वच्छता अभियान और शहर को बेहतर व स्मार्ट सिटी बनाने पर  गंभीरता से काम कर रही है।



राजधानी की समस्याओं के बारे में माधुरी हलवासिया, चेयरपर्सन, एफएलओ लखनऊ ने कहा, “हमें उम्मीद है कि इस कार्यक्रम से ब्यूरो क्रेसी और फिक्की एफएलओ के बीच एक करीबी कामकाज का सामंजस्य  उत्पन्न होगा जिसका प्रतिफल सभी को  मिलेगा। और स्वच्छता अभियान में पूर्व की भांति हमारी भागीदारी एक नए कीर्तिमान को स्थापित करेगी।

वक्ताओं के संबोधन के बाद एक प्रश्नोत्तर सत्र शुरू हुआ जहां एफएलओ लखनऊ के सदस्यों ने प्रासंगिक प्रश्न पूछकर और सुझाव देकर अपनी शंकाओं को स्पष्ट किया।
इस आयोजन की अध्यक्षता पूर्व एफएलओ चेयरपर्सन  ज्योत्सना कौर हबीबुल्लाह ने की थी। इस के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि "यदि हम उन कार्यक्रमों में पूरी तरह से भाग ले सकते हैं जो प्रशासन आयोजित करता है और  हमारे फ्लो परिवार के सदस्य उसमें अपनी  सक्रियता से भागीदारी करते हैं हैं तो हम समाज के  सभी वर्गों पर एक बड़ा प्रभाव डाल सकते हैं और वास्तव में हमारे जीवन और हमारे आस-पास के लोगों पर फर्क डाल सकते हैं।"

अधिक राज्य की खबरें