धोखा देकर बनी योगी सरकार : अखिलेश
अखिलेश के शनिवार के बयान को उसी कड़ी में जोड़कर देखा जा रहा है.


लखनऊ : समाजवादी पार्टी नेता अखिलेश यादव ने शनिवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में सूबे की योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि बीजेपी ने जाति और धर्म के आधार पर लोगों को बांटकर और झूठे वादे कर सत्‍ता हासिल की है. यह सरकार लोगों को धोखा देकर बनी है. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी के झूठ के खिलाफ रास्‍ता खोले जाने की जरूरत है. इसके लिए विपक्षी दलों के गठबंधन की जरूरत होगी. इस गठबंधन में सपा की अहम भूमिका होगी. वैसे भी सपा सभी के साथ हैं. उन्‍होंने यह भी कहा कि इसके लिए देश के सभी नेताओं से बात करेंगे. उन्‍होंने सीएम योगी आदित्‍यनाथ सरकार पर हमला बोलते हुए यह भी कहा कि समाजवादी पेंशन योजना बंद होना ठीक बात नहीं है.

उल्‍लेखनीय है कि शुक्रवार को अंबेडकर जयंती के दौरान मायावती ने भी बीजेपी के खिलाफ गठबंधन के साथ हाथ मिलाने के संकेत दिए थे. उन्‍होंने ईवीएम पर सभी विपक्षी दलों का साथ देने की बात भी कही थी. अखिलेश के शनिवार के बयान को उसी कड़ी में जोड़कर देखा जा रहा है. उन्‍होंने यह भी कहा कि मशीन पर कोई भी भरोसा नहीं कर सकता है. 100 प्रतिशत बैलट पेपर पर हमारा भरोसा है.



इससे पहले शुक्रवार को बसपा सुप्रीमो मायावती ने शुक्रवार को भाजपा के खिलाफ आक्रामक तेवर अपनाते हुए भाजपा विरोधी दलों से हाथ मिलाने के संकेत दिये. मायावती ने अंबेडकर जयंती पर आयोजित पार्टी के एक कार्यक्रम में भाजपा पर वर्ष 2014 के लोकसभा और वर्ष 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में ईवीएम (इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) की गड़बड़ी करने का आरोप मढ़ते हुए कहा, ''देश के लोकतंत्र को बचाने के लिए मैं कदम पीछे खींचने वाली नहीं हूं. हमारी पार्टी भाजपा द्वारा ईवीएम की गड़बड़ी के खिलाफ बराबर संघर्ष करेगी और इसके लिए भाजपा विरोधी दलों से भी हाथ मिलाना पड़ा तो अब उनके साथ भी हाथ मिलाने में परहेज नहीं है.'' उन्होंने कहा कि पार्टी आंदोलन के हित में 'जहर को जहर से मारने' के आधार पर चलकर ईवीएम की गड़बड़ी को रोकना बहुत जरूरी है.

अधिक राज्य की खबरें

उपचुनाव : सिकन्दरा विधानसभा सीट पर सपा को मिला निषाद और पीस पार्टी का समर्थन, दोनों दलों ने नहीं उतारे अपने प्रत्याशी..

निषाद पार्टी और पीस पार्टी दवारा कानपुर देहात की सिकन्दरा विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में समाजवादी पार्टी ......