साइड न देने पर विधायक के गनर व साथी ने बस चालक को पीटा
बिसवां क्रासिंग का है मामला


लखीमपुर-खीरी: विधायक की गाड़ी को पास न देना बस चालक को महंगा पड़ गया। गाड़ी से उतरकर विधायक के गनर व एक अन्य साथी ने ड्राइवर की पिटाई कर दी। साथ ही परिचालक से अभद्रता की। इस मामले में पीड़ित ड्राइवर ने जब अपने मालिक से इसकी शिकायत की तो उन्होंने मामले पर उच्चाधिकारियों से बात की। हालांकि खबर लिखे जाने तक मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई थी। जानकारी के अनुसार, लखीमपुर डिपो की एक अनुबंधित बस सं.-यूपी31टी-8781 लखनऊ से चलकर लखीमपुर आ रही थी। दोपहर करीब 2रू45 बजे सीतापुर में बनी लखीमपुर क्रासिंग पर फाटक बंद होने की वजह से चालक ने बस को बंद करके खड़ा कर दिया। उनके पीछे स्कार्पियो संख्या यूपी32एचएम-7200 खड़ी थी। जिस पर कमल के फूल का झंडा आगे लगा था तो वहीं स्कार्पियो के पिछले शीशे पर लाल रंग से विधायक लिखा हुआ था। फाटक खुलते ही स्कार्पियो चालक बस ड्राइवर से साइड मांगने लगे। भीड़ अधिक होने के कारण ड्राइवर साइड नहीं दे पाया। इस पर सत्ता के नशे में चूर स्कार्पियो सवार गुस्से में आ गए। कुछ ही दूरी पर अपनी स्कार्पियो को बस के आगे लगा दी और बस चालक को पीटना शुरू कर दिया। परिचालक ने बीच-बचाव किया तो उससे भी बदसलूकी की। यात्रियों की मानें तो स्कार्पियो से एक गनर और एक अन्य व्यक्ति उतरा था जिसने चालक की पिटाई की। स्कार्पियो में एक अन्य व्यक्ति बैठा था जिसके बारे में वह जान नहीं पाया। लखीमपुर पहुंचने के बाद पीड़ित ड्राइवर व परिचालक ने जब पूरा घटनाक्रम अनुबंधित बस के मालिक को बताया तो उन्होंने स्कार्पियो की संख्या के बावत पता किया तो मालूम हुआ कि यह गाड़ी सीतापुर जिले के एक विधायक की है। वाहन स्वामी द्वारा घटना की जानकारी उच्चाधिकारियों को दी गई। समाचार लिखे जाने तक पुलिस ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की थी। 
बस मालिक ने बताया कि कार्रवाई के लिए उच्चाधिकारियों से गुहार लगाई गई है। यदि कार्रवाई न हुई तो चक्का जाम किया जाएगा।

अधिक राज्य की खबरें