बिहार में बाढ़ से मरने वालों की संख्या156 हुई
उत्तर प्रदेश में गंगा लगातार खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.


नई दिल्ली: बिहार में तीन लोगों की मौत के साथ ही बाढ़ में मरने वालों की संख्या बढ़ कर 156 हो गई है. साथ ही राज्य में बाढ़ की स्थिति में सुधार नहीं है, जबकि पड़ोसी उत्तर प्रदेश में गंगा लगातार खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.बिहार में, समस्तीपुर में तीन लोगों के मरने की खबर है, जबकि पटना में एनडीआरएफ की एक बचाव नौका में जुड़वां बच्चों का जन्म हुआ. चार जिलों में गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.

वहीं यूपी में फिर से बारिश नहीं होने के कारण गंगा और यमुना नदी के पानी में कमी आई है, लेकिन वे अभी भी कई स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. बाढ़ के कारण वाराणसी, इलाहाबाद, गाजीपुर और बलिया में 987 गांवों के 8.7 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. राज्य सरकार ने किसी भी बीमारी के फैलने को लेकर स्वास्थ्य विभाग को सतर्क किया है.केंद्रीय जल आयोग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य में गंगा नदी में पानी में कमी आई है, लेकिन यह अभी भी वाराणसी, गाजीपुर और बलिया में खतरे के निशान से उपर बह रही है. वहीं पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में बाढ़ की स्थिति में अभी भी बदलाव नहीं हुआ है और गंगा नदी का पानी खतरे के निशान से 48 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है.





अधिक देश की खबरें