20 साल के बाद जापान ने नए बैंक नोट किए जारी, आखिर क्यों उठाना पड़ा ये कदम ?
प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा ने बैंक ऑफ जापान में इन नए बैंक नोट को जारी करते हुए कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि देश के लोगों को Japan New Currency Note पसंद आएंगे .


नई दिल्ली :  जापान में 20 साल में पहली बार नए बैंक नोट जारी किए गए हैं. बैंक ऑफ जापान ने बुधवार को इन्हें सर्कुलेशन में एंट्री दी है. देश में जारी ये नए बैंक नोट 10,000 येन, 5,000 येन और 1,000 येन के हैं, जो कि खास तकनीक से लैस हैं. लगातार बढ़ती जालसाजी की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए जापान में ये 3D Hologram वाले नोट जारी किए गए हैं.

जापान के पीएम ने जमकर की तारीफ
बैंक ऑफ जापान ने बुधवार को 3-डी होलोग्राम तकनीक का इस्तेमाल करते हुए तैयार किए गए नए बैंक नोटों को जारी किया. प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा (Japan PM) ने 10,000 येन, 5,000 येन और 1,000 येन के नए नोट की अत्याधुनिक जालसाजी-रोधी विशेषताओं की जमकर तारीफ की और इसे ऐतिहासिक करार दिया है.

प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा ने बैंक ऑफ जापान में इन नए बैंक नोट को जारी करते हुए कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि देश के लोगों को Japan New Currency Note पसंद आएंगे और वे जापानी अर्थव्यवस्था (Japan Economy) को मजबूत करने में सहायक होंगे. इस मौके पर बैंक ऑफ जापान के गवर्नर काजुओ उएदा का कहना था कि दुनिया भले ही डिजिटल ट्रांजैक्शंस या नकदी रहित लेन-देन की ओर बढ़ती जा रही है, लेकिन हमारा मानना है कि कहीं भी और कभी भी सुरक्षित भुगतान के लिए नकदी अब भी बेहद महत्वपूर्ण है.

नए बैंकनोट में क्या है खास?
रिपोर्ट में स्थानीय मीडिया के हवाले से ये जानकारी भी शेयर की गई है कि नए नोट सर्कुलेशन में आने के बाद भी पहले से चलन में मौजूद करेंसी वैध बनी रहेगी. New Bank Note की खासियत की बात करें तो इन नोटों में अलग-अलग दिशाओं में मुख करके चित्रों के होलोग्राम बनाने के लिए मुद्रित पैटर्न का उपयोग किया गया है, जो देखने के कोण पर निर्भर करता है. इसके साथ ही इसमें एक ऐसी तकनीक का इस्तेमाल किया गया है, जिसके बारे में जापान के नेशनल प्रिंटिंग ब्यूरो का कहना है कि यह कागजी मुद्रा के लिए दुनिया की पहली तकनीक है.

3 गुना बढ़ा कैशलेस पेमेंट, फिर भी नकदी पर जोर
गौरतलब है कि साल 2004 के बाद से बैंक नोट के पहले नवीनीकरण ने व्यवसायों को नकदी पसंद करने वाले ग्राहकों के लिए भुगतान मशीनों को अपग्रेड करने के लिए प्रेरित किया. जापान वेंडिंग मशीन मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन का कहना है कि लगभग 90 फीसदी बैंक एटीएम, ट्रेन टिकट मशीनें और रिटेल कैश रजिस्टर नए नोटों स्वीकार करने के लिए तैयार हैं. हालांकि, डिजिटल दौर में जापान में पिछले एक दशक में कैशलेस पेमेंट लगभग तीन गुना बढ़ा है. रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2023 में उपभोक्ता खर्च का 39 फीसदी हिस्सा कैशलेस पेमेंट का रहा था.


(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)

अधिक विदेश की खबरें