हादसे के चार दिन बाद सामने आया बाबा का पहला वीडियो खुद पर लग रहे आरोपों पर ​​'भोले बाबा' ने तोड़ी चुप्पी
फाइल फोटो


हाथरस में दो जुलाई को सत्संग के बाद मची भगदड़ में 121 लोगों की मौत हुई। सत्संग सूरजपाल उर्फ ​​'भोले बाबा' का था। हादसे के बाद पहली बार सूरजपाल ने मीडिया के सामने आकर बयान दिया है। उसने कहा कि 2 जुलाई को हुए हादसे के बाद हम बहुत दुखी हैं।

बाबा का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें कुछ सेकेंड तक तो बाबा मौन रहता है। इसके बाद कहता है कि भगवान हमें इस दर्द को सहने की शक्ति दे। कृपया सरकार और प्रशासन पर भरोसा रखें। मुझे विश्वास है कि जिसने भी अराजकता फैलाई है, उसे बख्शा नहीं जाएगा।

सूरजपाल आगे कहता है कि हमने अपने वकील एपी सिंह के माध्यम से समिति के सदस्यों से अनुरोध किया है कि वे शोक संतप्त परिवारों और घायलों के साथ खड़े रहें और जीवन भर उनकी मदद करें। उसने कहा कि सभी इस जिम्मेदारी को निभा भी रहे हैं।

हाथरस हादसे का मुख्य आरोपित देव प्रकाश गिरफ्तार

हाथरस कांड के मुख्य आरोपित सेवादार देवप्रकाश मधुकर को पुलिस ने शुक्रवार रात दिल्ली से गिरफ्तार किया है। अलीगढ़ आइजी शलभ माथुर ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि देवप्रकाश को शनिवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा। दसरी ओर, सूरजपाल के वकील एपी सिंह ने दावा किया कि देवप्रकाश ने दिल्ली में पुलिस के सामने समर्पण किया है।

बता दें कि मधुकर कार्यक्रम का मुख्य आयोजक था। मुकदमा दर्ज होने के बाद उस पर एक लाख रुपये के इनाम की घोषणा की गई थी। पुलिस की रडार पर 200 से अधिक मोबाइल नंबर थे। मामले में पुलिस मधुकर की गिरफ्तारी से पहले छह अन्य लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। इसके अलावा, एसआईटी की जांच में डीएम और एसपी हाथरस से पूछताछ की गई है।



अधिक राज्य/उत्तर प्रदेश की खबरें