आईएएस बनना चाहती थी यामी गौतम, लेकिन चल पड़ी बॉलीवुड की राह
अभिनेत्री यामी गौतम


नई दिल्ली : सोमवार को अभिनेत्री यामी गौतम का जन्मदिन है. यामी ने उन अभिनेत्रियों में से एक हैं, जिन्होंने बहुत कम समय में छोटे पर्दे से बड़े पर्दे तक का कामयाब सफर तय किया है. यामी का जन्म 28 नवंबर 1988 को हिमाचल प्रदेश में हुआ था. उनके पिता मुकेश गौतम पंजाबी फिल्मों के निर्देशक हैं. यामी आईएएस बनना चाहती थीं मगर किस्मत उन्हें बॉलीवुड खींच लाई.

यामी 20 साल की उम्र में अपना शहर छोड़ कर मुंबई पहुंच गईं. उन्होंने टेलीविजन पर प्रसारित होने वाले धारावाहिक 'चांद के पार चलो' से अभिनय की दुनिया में कदम रखा. इसके बाद वह कई धारावाहिकों में नजर आईं. यामी ने 2009 में मलायलम फिल्म 'उल्लास उत्साह' से फिल्मी दुनिया में कदम रखा, लेकिन जल्द ही उन्होंने बॉलीवुड का रुख कर लिया.

यामी ने 2012 में आई फिल्म 'विक्की डोनर' से बॉलीवुड में डेब्यू किया. इस फिल्म में वह आयुष्मान खुराना के अपोजिट लीड रोल में थी. फिल्म में उन्होंने बंगाली लड़की का किरदार निभाया जो दर्शकों को काफी पसंद आया और यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सफल रही. इसके बाद तो यामी ने हिंदी, मलयालम, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और मराठी भाषा की कई फिल्मों में अभिनय किया, जिसमें एक नूर ,गौरवम ,युद्धम, एक्शन जैक्शन, बदलापुर, काबिल, सरकार 3 ,उरी:द सर्जिकल स्ट्राइक और बाला शामिल हैं. यामी कम समय में अपने अभिनय की बदौलत कामयाबी की बुलंदी पर पहुंचने वाली अभिनेत्री हैं.


(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)

अधिक मनोरंजन की खबरें

आईएएस बनना चाहती थी यामी गौतम, लेकिन चल पड़ी बॉलीवुड की राह

'बहुत पहले ही कर लेना चाहिए था... न मेरा सर्कस', अभिषेक से घंटों बात करने के बाद अमिताभ को याद आए बाबूजी, लिखा क्रिप्टिक नोट..

अमिताभ बच्चन को भारतीय फिल्म इंडस्ट्री का महानायक कहा जाता है. उन्होंने अपने 5 दशक से ज्यादा ......