तिहाड़ जेल प्रशासन का दावा, केजरीवाल जिस चीज की कोर्ट से कर रहे थे मांग, डॉक्टर के सामने नहीं किया एक बार भी जिक्र
अरविंद केजरीवाल


नई दिल्ली : दिल्ली शराब घोटाला केस में गिरफ्तार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अभी तिहाड़ जेल में बंद हैं. अरविंद केजरीवाल जिस चीज की लगातार कोर्ट से मांग कर रहे थे, उसे लेकर तिहाड़ प्रशासन ने बड़ा दावा किया है. तिहाड़ प्रशासन ने दावा किया कि अरविंद केजरीवाल ने डॉक्टरों के सामने इंसुलिन का मुद्दा उठाया तक नहीं. तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने बताया कि जेल प्रशासन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की एम्स यानी अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के वरिष्ठ विशेषज्ञों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की व्यवस्था की, जिसके दौरान न तो अरविंद केजरीवाल ने इंसुलिन का मुद्दा उठाया और न ही चिकित्सकों ने इसका सुझाव दिया.

तिहाड़ प्रशासन ने रविवार को एक बयान में कहा कि एम्स के वरिष्ठ विशेषज्ञों ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से केजरीवाल को परामर्श प्रदान किया. एक जेल अधिकारी ने कहा, ‘लगभग 40 मिनट के विस्तृत परामर्श के बाद अरविंद केजरीवाल को आश्वासन दिया गया कि कोई गंभीर चिंता नहीं है और उन्हें निर्धारित दवाएं जारी रखने की सलाह दी गई, जिसका मूल्यांकन और समीक्षा नियमित रूप से की जाएगी.’

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े एम्स डॉक्टर्स
अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल के अनुरोध पर तिहाड़ जेल प्रशासन द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंस की यह व्यवस्था की गई थी. एम्स विशेषज्ञ को सीजीएम (ग्लूकोज मॉनिटरिंग सेंसर) का पूरा रिकॉर्ड और केजरीवाल द्वारा लिये जा रहे आहार और दवाओं का विवरण प्रदान किया गया. जेल अधिकारी ने कहा, ‘वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान न तो केजरीवाल ने इंसुलिन का मुद्दा उठाया, न ही चिकित्सकों ने इसका सुझाव दिया.’

अदालत से लगाई थी गुहार
अरविंद केजरीवाल ने अदालत से यह गुहार लगाई थी कि उन्हें जेल में इंसुलिन मुहैया कराई जाए. बता दें कि अरविंद केजरीवाल को दिल्ली सरकार की रद्द हो चुकी आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने 21 मार्च को गिरफ्तार किया था. वह एक अप्रैल से तिहाड़ जेल में बंद हैं. आम आदमी पार्टी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ‘गंभीर मधुमेह के रोगी’ हैं और उन्हें 28 यूनिट नोवोरैपिड (तीन बार भोजन से पहले) और 22 यूनिट लैंटस (रात में) अर्थात कुल 50 यूनिट इंसुलिन दी जा रही थी.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है)


अधिक देश की खबरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल की रिहाई पर लगाई रोक, ED की दलील में दो तरह से दोषी हैं मुख्यमंत्री

दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल की रिहाई पर लगाई रोक, ED की दलील में दो तरह से दोषी हैं मुख्यमंत्री ..

दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल की रिहाई पर पेच फंस गया है. हाईकोर्ट ने राऊज एवेन्‍यू कोर्ट ... ...