अरुण जेटली बीमार, अंतरिम बजट से 9 दिन पहले पीयूष गोयल को मिली वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी
File Photo


मोदी सरकार का अंतरिम बजट पेश होने से 9 दिन पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंप दिया गया. अरुण जेटली अस्वस्थ हैं और इलाज के लिए विदेश में हैं, इस वजह से उनके मंत्रालयों का प्रभार गोयल को दिया गया है. ऐसे में माना जा रहा है कि जेटली की जगह पीयूष गोयल 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश कर सकते हैं.

राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सलाह पर वित्त मंत्रालय और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार अस्थायी रूप से गोयल को सौंपा गया है. गोयल के पास जो मंत्रालय हैं वो उसका कामकाज भी देखेंगे. जेटली फिलहाल बिना किसी पोर्टफोलियो के मंत्री बने रहेंगे. स्वस्थ होने के बाद जेटली फिर से वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे.

अरुण जेटली 13 जनवरी को इलाज के सिलसिले में अमेरिका गए हैं. अमेरिका जाने से इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि जेटली अंतरिम बजट पेश करने के लिए वापस नहीं लौट पाएंगे. जेटली ने खुद कहा था कि वो दो हफ्ते के लिए अमेरिका जा रहे हैं.

ये बजट आम चुनाव से पहले मोदी सरकार का अंतिम बजट होगा. हलवा सेरेमनी के बाद बजट दस्तावेजों की छपाई प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो चुकी है.

ये दूसरी बार है जब पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. इससे पहले पिछले साल अरुण जेटली तीन महीने तक छुट्टी पर थे. 14 मई 2018 को उनका किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था. इस दौरान गोयल ही वित्त मंत्रालय को संभाल रहे थे.

अधिक बिज़नेस की खबरें