उबर ने टॉप अधिकारी अमित सिंघल को नौकरी से निकाला
उबर से पहले अमित सिंघल गूगल में सर्च टेक्‍नोलॉजी के हेड थे.


नई दिल्ली : पिछली कंपनी के यौन शोषण का मामला एक बार फिर उजागर होने के बाद ट्रांसपोर्ट प्रदाता दिग्‍गज कंपनी उबर टेक्‍नोलॉजी के टॉप एक्‍जीक्‍यूटिव अमित सिंघल को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है. इस पहले गूगल में काम करने के दौरान उन पर यौन शोषण का आरोप लगा था. उसके बाद वहां से उन्‍होंने इस्‍तीफा देने के बाद तकरीबन एक महीने पहले उबर में सॉफ्टवेयर हेड के रूप में ज्‍वाइन किया था. यहां उनको सीनियर वाइस प्रेजीडेंट बनाया गया था. 

20 जनवरी को वहां उन्‍होंने ज्‍वाइन किया था. दरअसल उस दौरान सिंघल ने अपने खिलाफ मामले के बारे में न ही बताया था और उबर को भी मालूम नहीं चला था. ज्‍वाइन करने के बाद उबर को मालूम चला कि गूगल में उनके खिलाफ यौन शोषण के आरोप की जांच की जा रही है. इस मामले में अमित सिंघल ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि अपने पिछले दो दशकों के करियर में उनके खिलाफ ऐसे कोई आरोप नहीं लगे हैं. उन्‍होंने साथ ही य‍ह भी कहा कि गूगल को उन्‍होंने स्‍वेच्‍छा से छोड़ा था. माना जा रहा है कि उबर के सीईओ ट्रेविस कैलेनिक ने सिंघल को इस्‍तीफा देने के लिए कहा. हालांकि इस मामले में उबर ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है. गूगल ने भी किसी भी प्रकार की टिप्‍पणी से इनकार किया है.

उबर से पहले अमित सिंघल गूगल में सर्च टेक्‍नोलॉजी के हेड थे. वहां उन्‍होंने 15 साल काम करने के बाद पिछले साल इस्‍तीफा दे दिया था. उस दौरान गूगल ने कहा था कि सिंघल वहां से रिटायर हो रहे हैं.

अधिक बिज़नेस की खबरें