कल बृहस्पति गृह होगा धरती के सबसे करीब
यहीं नहीं बृहस्पति गृह के साथ ही उसके चार चंद्रमाओं को भी देखा जा सकेगा


सोमवार यानी 10 जून को सौरमंडल का सबसे बड़ा गृह बृहस्पति धरती के सबसे अधिक नजदीक होगा। पृथ्वी के सबसे पास होने की वजह से बृहस्पति गृह अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक बड़ा और चमकीला दिखाई देगा। यहीं नहीं बृहस्पति गृह के साथ ही उसके चार चंद्रमाओं को भी देखा जा सकेगा। खगोलप्रेमी शहरवासी पूरी रात बृहस्पति गृह व इसके चंद्रमाओं को निहार सकेंगे।

इंदिरा गांधी नक्षत्रशाला के वैज्ञानिक अधिकारी सुमित श्रीवास्तव ने बताया कि 10 जून की रात को 8.41 मिनट पर बृहस्पति गृह की पृथ्वी से दूरी न्यूनतम हो जाएगी। बृहस्पति गृह से पृथ्वी की दूरी 640.91 मिलियन किमी रह जाएगी। जो कि पिछले साल यह दूरी 658 मिलियन किमी थी। यानी पिछले साल की अपेक्षा बृहस्पति गृह पृथ्वी के अधिक नजदीक होगा। उन्होंने बताया कि इस अवस्था को बृहस्पति गृह का अपोजिशन कहा जाता है। इसमें पृथ्वी, सूर्य और बृहस्पति गृह एक सीधी रेखा में आ जाते हैं। उन्होंने बताया कि सामान्य दूरबीन से लोग बृहस्पति गृह व उसके चंद्रमाओं को देख सकते हैं। पूर्व दिशा की ओर से इसका उदय होगा। बताया कि अपोजिशन की अवस्था देखने के साथ फोटोग्राफ लेने के लिए सबसे अधिक उपयुक्त है।

अधिक धर्म कर्म की खबरें