कम उम्र में पीरियड्स आने से बढ़ सकता है डायबीटीज का खतरा
गर्भावधि में मधुमेह होना सामान्य गर्भावस्था को जटिल बना देता है और मां और बच्चा दोनों को लंबे समय तक प्रभावित कर सकता है।


सिडनी : लड़कियों को अगर 11 साल या इससे कम उम्र में पीरियड्स यानी मासिक धर्म शुरू हो जाए तो उन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान मधुमेह यानी डायबीटीज होने का खतरा 50 फीसदी ज्यादा हो जाता है। ऑस्ट्रेलिया के शोधकर्ताओं की एक रिसर्च में यह बात सामने आई है। इसमें भारतीय मूल की एक शोधकर्ता भी शामिल थीं।

शोध का निष्कर्ष यह है कि 11 साल या इससे कम उम्र की लड़कियों को 13 साल की उम्र के बाद मासिक धर्म शुरू होने वाली लड़कियों की तुलना में गर्भावस्था के दौरान मधुमेह का खतरा 50 फीसदी तक रहता है। गर्भावधि में मधुमेह होना सामान्य गर्भावस्था को जटिल बना देता है और मां और बच्चा दोनों को लंबे समय तक प्रभावित कर सकता है।

यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड की प्राध्यापक गीता मिश्रा ने बताया, ‘‘लड़कियों के शीघ्र तरुण अवस्था में आ जाने से गर्भावधि में मधुमेह सहित स्वास्थ्य संबंधी कई प्रतिकूल परिणाम सामने आ सकते हैं।’’ शोधकर्ताओं ने इस निष्कर्ष के लिए बॉडी मास इंडेक्स, बाल्यावस्था, प्रजनन और जीवनशैली कारकों का अध्ययन किया था। शोध दल ने 4,700 महिलाओं के बारे में अध्ययन कर पाया कि जिन महिलाओं में कम उम्र में पीरियड्स शुरू हुए, वे बाद में प्रेग्नेंसी के दौरान डायबीटीज का शिकार हुईं।

यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड की शोधकर्ता डेनिएल शोएंकर ने बताया, ‘‘इन निष्कर्षों से स्पष्ट है कि स्वास्थ्यकर्मियों को महिलाओं में मासिक धर्म और उच्च गर्भावधि मधुमेह जोखिम की पहचान करना शुरू कर देना चाहिए।’’ यह शोध ‘अमेरिकन जर्नल ऑफ एपिडेमियोलॉजी’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें