पायलटों की हड़ताल के चलते ब्रिटिश एयरवेज की डेढ़ हजार उड़ानें रद्द
इसके चलते करीब 80 मिलियन पाउंड यानी 704 करोड़ रुपये का नुकसान होगा।


मॉस्को/नई दिल्ली : सैलरी विवाद को लेकर पायलटों की हड़ताल को देखते हुए ब्रिटिश एयरवेज ने डेढ़ हजार से ज्यादा उड़ानों को रद्द करने का निर्णय लिया है। स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार दो दिन क्रमश: सोमवार और मंगलवार को पायलट हड़ताल पर रहेंगे। यह 100 साल के इतिहास में एयरलाइन की सबसे बड़ी हड़ताल है। द टेलीग्राफ अखबार के मुताबिक, इस हड़ताल से लगभग 2 लाख 80 हजार लोग प्रभावित होंगे। 

इसके चलते करीब 80 मिलियन पाउंड यानी 704 करोड़ रुपये का नुकसान होगा। न्यूयॉर्क, हांगकांग दिल्ली और जोहानसर्बग के लिए भी उड़ानें प्रभावित हुई हैं। वहीं, एयरलाइन्स कंपनियों ने यात्रियों से अनुरोध किया है कि यदि आपकी फ्लाइट रद्द हो गई हो तो एयरपोर्ट न जाएं। रूस के विदेश मंत्रालय ने भी अपने नागरिकों को हड़ताल के चलते उड़ान रद्द होने के बाद उन्हें सर्तक किया है।

उल्लेखनीय है कि ब्रिटिश एयरलाइन पायलट एसोसिएशन (बीएएलपीए) ने वेतन और भत्तों में कटौती के कारण 23 अगस्त को हड़ताल की घोषणा की थी। इसमें कहा गया था कि नौ और दस  सितम्बर को पायलट हड़ताल पर रहेंगे। इसके बाद 27 सितम्बर को भी पायलटों ने हड़ताल की घोषणा की है।

अधिक विदेश की खबरें