इमरान खान का बड़ा एलान, भारतीय श्रद्धालुओं को करतारपुर आने के लिए पासपोर्ट की जरूरत नहीं
भारत से आने वाले सिख भारतीय श्रद्धालुओं को इमरान खान की ओर से दो छूट दी गई है।


इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने  कहा कि करतारपुर आने वाले भारतीय श्रद्धालुओं को पासपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ेगी। भारत से आने वाले सिख भारतीय श्रद्धालुओं को इमरान खान की ओर से दो छूट दी गई है। इसमें पहली छूट है की उन्हें पासपोर्ट की जरूरत नहीं पड़गी और दूसरी कि उनके पास एक वैध आईडी प्रूफ होना अनिवार्य होगा। 10 दिनों पहले रजिस्टर करने की शर्त भी नहीं होगी। उद्घाटन के दिन और गुरु नानक देवजी के 550 जन्मदिवस पर कोई शुल्क नहीं लगेगा।



उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान में करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन समारोह 9 नवंबर को होगा। जिसमे कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का न्योता स्वीकार कर लिया है। इमरान की पार्टी ने बताया कि सिद्धू ने करतारपुर कॉरिडोर उद्घाटन समारोह में आने का न्योता देने के लिए इमरान खान को धन्यवाद कहा है।


सिद्धू द्वारा इमरान का न्योता स्वीकार किए जाने के संदर्भ में विदेश मंत्रालय ने कहा कि इसके लिए राजनीतिक मंजूरी लेनी होगी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक सवाल के जवाब में कहा कि जिन भारतीयों को पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर उद्घाटन समारोह में बुलाना चाहता है, उन्हें राजनीतिक मंजूरी लेनी होगी। 

9 नवंबर तक पूरा हो जाएगा निर्माण कार्य
पंजाब सरकार के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण का बचा हुआ कार्य नौ नवंबर से पहले पूरा हो जाएगा। 95 फीसद कार्य पूरा हो गया है। उन्होंने गुरुवार को डेरा बाबा नानक में निर्माण कार्य का जायजा लिया। इसके बाद सुल्तानपुर लोधी में विकास कार्यो का निरीक्षण किया और दो सौ करोड़ के प्रोजेक्टों का उद्घाटन किया। उल्लेखनीय है कि नौ नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक विदेश की खबरें