राजस्थान पुलिस की पहली किन्नर सिपाही बनीं गंगा कुमारी
राजस्थान हाई कोर्ट के निर्देश पर गंगा कुमारी को राजस्थान पुलिस में कॉन्स्टेबल के रूप में नियुक्त किया गया है।


जोधपुर : राजस्थान के जालौर की रहने वाली गंगा कुमारी की मेहनत आखिरकार रंग लाई। लंबे संघर्ष के बाद राजस्थान हाई कोर्ट के निर्देश पर गंगा कुमारी को राजस्थान पुलिस में कॉन्स्टेबल के रूप में नियुक्त किया गया है। वह राज्य की पहली ऐसी किन्नर हैं, जिन्होंने पुलिस फोर्स जॉइन किया है। 

गंगा कुमारी का यह सफर आसान नहीं था। उन्हें राजस्थान हाई कोर्ट में दो साल तक केस लड़ना पड़ा, तब जाकर सफलता मिली। हाई कोर्ट ने सोमवार को आदेश दिया था कि पुलिस विभाग गंगा कुमारी को कांस्टेबल के रूप में नियुक्त करे। 24 वर्षीय गंगा कुमारी ने मंगलवार को पुलिस फोर्स जॉइन कर लिया। 

बता दें, पुलिस विभाग ने उनके जेंडर के कारण उन्हें नौकरी पर रखने से इनकार कर दिया था। जस्टिस दिनेश मेहता ने इस मामले को 'लैंगिक भेदभाव' करार देते हुए छह सप्ताह के अंदर नियुक्ति देने का आदेश दिया था। 

राजस्थान के जालौर जिले के रानीवारा इलाके की रहने वाली गंगा ने वर्ष 2013 में पुलिस भर्ती परीक्षा पास किया था। हालांकि, मेडिकल जांच के बाद उनकी नियुक्ति को रोक दिया गया था। जांच में पता चला कि गंगा कुमारी किन्नर हैं। इसके बाद गंगा कुमारी ने हाई कोर्ट की शरण ली और दो साल के संघर्ष के बाद उन्हें सफलता मिली। 



अधिक देश की खबरें

....तो इस 'एक कारण' ने मजबूर कर दिया हार्दिक पटेल को पाटीदार नेता बनने को, पढ़िए! हार्दिक के जीवन का 'वो' अनकहा किस्सा ..

गुजरात विधानसभा चुनाव में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को अप्रत्यक्ष रूप से समर्थन देने का ......